मौसम अपडेट : ओडिशा में भारी बारिश का पूर्वानुमान, 30 जिलों में अलर्ट

पुनः संशोधित शनिवार, 29 जून 2019 (23:57 IST)
हमें फॉलो करें
भुवनेश्वर। भारतीय मौसम विभाग द्वारा ओडिशा में अगले 3 दिनों तक होने का जताने के मद्देनजर ओडिशा सरकार ने शनिवार को राज्य के सभी 30 जिलों को सतर्क रहने को कहा है। विभाग ने संकेत दिया है कि बंगाल की खाड़ी और उसके आस-पास के क्षेत्रों में निम्न दाब का क्षेत्र बनेगा जिसकी वजह से अगले 48 घंटों में इसके दबाव में और तीव्रता आएगी।

भुवनेश्वर में विभाग के निदेशक एचआर विश्वास ने कहा कि इसके प्रभाव की वजह से ओडिशा के जिलों में बारिश बढ़ सकती है तथा बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव क्षेत्र बनने की वजह से बंगाल की खाड़ी और निकट के पश्चिमी मध्य खाड़ी में 30 जून से 2 जुलाई के बीच 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है।

जिला कलेक्टरों को इस संबंध में परामर्श जारी किया गया है। इसमें विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) बीपी सेठी ने कहा कि कालाहांडी, कंधमाल, गजपति, गंजम, नवरंगपुर, मयूरभंज, मलकानगिरि और बालासोर जिलों को खास तौर पर सतर्क रहने को गया है। मौसम विभाग ने मछुआरों को 30 जून से 2 जुलाई के बीच समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है।
दक्षिण में भारी बारिश : दक्षिण गुजरात में शनिवार को बेहद तेज वर्षा हुई। मौसम विभाग के अनुसार राज्य के दक्षिण और मध्य जिलों में अगले 2 दिन में भारी बारिश होने का अनुमान है। क्षेत्र में ऊपरी चक्रवात प्रवाह निर्मित हो रहा है।

मौसम विभाग ने वलसाड, नवसारी, सूरत, नर्मदा, छोटा उदेपुर और वडोदरा जिलों में अगले 2 दिन में भारी बारिश की चेतावनी दी है। दक्षिण गुजरात क्षेत्र में ऊपरी चक्रवात प्रवाह निर्मित हो गया है।
इन ट्रेनों पर पड़ा असर : मध्य रेलवे की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि मुंबई-पुणे प्रगति एक्सप्रेस, मुंबई-पुणे सिंहगढ़ एक्सप्रेस, भुसावल-मुंबई पैसेंजर, पुणे-पनवेल पैसेंजर को शनिवार और रविवार को रद्द कर दिया गया। भुसावल-पुणे एक्सप्रेस का मार्ग परिवर्तित कर दौंड-मनमाड़ की तरफ से कर दिया गया।

मौसम विभाग के अनुसार असम, मेघालय, छत्तीसगढ़, केरल, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, अंडमान और निकोबार द्वीप, अरुणाचल प्रदेश और गोवा के अधिकतर स्थानों में बारिश हुई अथवा गरज के साथ छींटें पड़े। कोंकण, गोवा और गुजरात के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हुई। (भाषा)



और भी पढ़ें :