NYT ने कहा- दिल्ली की शिक्षा प्रणाली पर हमारी रिपोर्ट निष्पक्ष

पुनः संशोधित शनिवार, 20 अगस्त 2022 (00:24 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। न्यूयॉर्क टाइम्स में दिल्ली की शिक्षा प्रणाली पर प्रकाशित रिपोर्ट पर अखबार ने कहा है कि उसकी रिपोर्ट निष्पक्ष है और ग्राउंड रिपोर्ट पर आधारित है। अखबार ने कहा कि उसकी रिपोर्ट राजनीति और विज्ञापन के प्रभाव से मुक्त है।
उल्लेखनीय है कि दिल्ली की शिक्षा को लेकर न्यूयॉर्क टाइम्स में छपे लेख पर भाजपा ने सवाल उठाए थे। इस पर अखबार ने कहा कि हमारे लिए पत्रकारिता हमेशा से ही स्वतंत्र एवं निष्पक्ष रही है। यह रिपोर्ट भी ग्राउंड रिपोर्ट पर आधारित है।

भाजपा ने साधा पर निशाना : भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रीय राजधानी की आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार पर हमला बोलने के लिए शुक्रवार को दिल्ली के की उस टिप्पणी का इस्तेमाल किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि न्यूयार्क टाइम्स में खबर प्रकाशित कराना बहुत मुश्किल है।

केजरीवाल की यह टिप्पणी राष्ट्रीय राजधानी में आप सरकार के शिक्षा मॉडल पर में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की तस्वीर के साथ एक आलेख प्रकाशित होने के संबंध में आई थी।

‘न्यूयार्क टाइम्स’ (एनवाईटी) के पहले पन्ने पर सिसोदिया की तस्वीर छपने को लेकर उनकी सराहना करने के दौरान केजरीवाल की जुबान फिसल गई, जिसे लेकर मुख्यमंत्री को भाजपा सांसदों की आलोचना का सामना करना पड़ा।

भाजपा सांसदों ने आरोप लगाया कि आलेख ‘पेड’ (पैसे देकर प्रकाशित कराया गया) रहा होगा, लेकिन आप ने पलटवार करते हुए इसे बेतुका दावा करार दिया। केजरीवाल ने कहा, न्यूयार्क टाइम्स में खबर प्रकाशित करना बहुत मुश्किल है जो कि विश्व के सबसे शक्तिशाली देश का सबसे बड़ा अखबार है। हालांकि उन्होंने फौरन अपनी टिप्पणी में सुधार कर लिया।

उन्होंने तुरंत ही कहा, किसी खबर का न्यूयार्क टाइम्स में प्रकाशित होना बहुत कठिन होता है। विश्व में हर देश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एनवाईटी के पहले पन्ने पर अपना नाम और तस्वीर आने के लिए बेकरार रहते हैं।

केजरीवाल ने कहा कि एनवाईटी के पहले पन्ने पर सिसोदिया की तस्वीर के साथ दिल्ली सरकार के शिक्षा मॉडल की खबर प्रकाशित होना एक तरह से इस बात की पुष्टि है कि सिसोदिया विश्व में सर्वश्रेष्ठ शिक्षा मंत्री हैं। उनकी जुबान फिसलने पर कटाक्ष करते हुए केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने एक ट्वीट में कहा, चोर की दाढ़ी में तिनका।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने भी आलेख का जिक्र करते हुए आरोप लगाया कि आप प्रचार पर सरकारी धन बर्बाद कर रही है। उन्होंने एक ट्वीट में कहा, लो जी यहां भी पकड़े गए, न्यूयार्क टाइम्स और ख़लीज़ टाइम्स में एक समान शब्द और एक ही व्यक्ति के लिखे हुए हैं। बेशर्म आप दिल्ली की जनता का पैसा बर्बाद कर रही है अपनी तस्वीर छपवाने के लिए वह पैसा भी दे रही।

पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने दावा किया कि खबर में एक निजी स्कूल की तस्वीर है और दिल्ली सरकार द्वारा संचालित स्कूल नहीं है। आप ने कहा, यह बेहद हास्यास्पद और बेतुका है कि भाजपा एनवाईटी में छपे आलेख के पेड होने का दावा कर रही है। मीडिया में काम करने वाला कोई भी व्यक्ति आलेख को देखकर बता सकता है कि यह पेड नहीं है।



और भी पढ़ें :