ममता ने मोदी को दी उन्‍हें जेल भेजने की चुनौती

कांडी (पश्चिम बंगाल)| पुनः संशोधित शनिवार, 9 अप्रैल 2016 (20:29 IST)
हमें फॉलो करें
कांडी (पश्चिम बंगाल)। की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के उनकी पार्टी के भ्रष्टाचार में संलिप्त होने के आरोप को लेकर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री को चुनौती दी कि वे उन्हें जेल भेजकर दिखाएं।
उन्होंने विश्वास जताया कि वे जेल में रहकर भी भारी बहुमत से चुनाव जीतेंगी। ममता ने मुर्शिदाबाद जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, प्रधानमंत्री अक्‍सर झूठ बोलते हैं। 
 
ममता ने कहा, उन्हें मुझे जेल में डालने दें। तब भी मैं भारी बहुमत से चुनाव जीतूंगी। पश्चिम बंगाल में हाल की रैलियों में प्रधानमंत्री ने ममता पर भ्रष्टाचार से समझौता करने और बदलाव के नारे लगाकर लोगों को गुमराह करने के आरोप लगाए थे।
 
मोदी ने एक चुनावी सभा में कहा था कि टीएमसी का मतलब है टेरर, मौत और करप्शन। मोदी ने कहा था, तृणमूल कांग्रेस नेताओं के खिलाफ नारदा स्टिंग ऑपरेशन को टीवी पर दिखाया गया था। यह इतना बड़ा घोटाला था लेकिन क्या दीदी ने उनके खिलाफ कोई कदम उठाया या उन्‍हें पार्टी से निष्कासित किया। 
 
मोदी ने कहा था कि दीदी ने भ्रष्टाचार से समझौता कर लिया है। ममता ने माकपा और कांग्रेस की भी आलोचना की जिन्होंने विधानसभा चुनावों में उनकी पार्टी को हराने के लिए गठबंधन किया है।
 
माकपा-कांग्रेस गठबंधन का मजाक उड़ाते हुए ममता ने कहा कि दोनों दलों के लिए यह अस्तित्व की लड़ाई है। पश्चिम बंगाल कांग्रेस के अध्यक्ष अधीर चौधरी के गढ़ मुर्शिदाबाद जिले में उन पर करारा प्रहार करते हुए उन्होंने कहा, कांग्रेस के पास खुद से लड़ने की ताकत नहीं है और वह पहचान के संकट से गुजर रही है। इसलिए पुल पार करने के लिए उसे माकपा के साथ की जरूरत है। 
 
ममता ने कहा, माकपा को लोग 34 वर्षों के कुशासन के लिए जानते हैं। दोनों दल (कांग्रेस और माकपा) बेशर्मी से झूठ बोल रहे हैं.. वे काम नहीं करते। (भाषा)



और भी पढ़ें :