महाराष्ट्र में बारिश का कहर, 2 दिन में 129 की मौत, 6 जिलों में अलर्ट

पुनः संशोधित शनिवार, 24 जुलाई 2021 (07:45 IST)
मुख्य बिंदु
  • में भारी से 129 की मौत
  • ज्यादातर मौतें रायगढ़ और सतारा जिलों में
  • पंचगंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर
  • मौसम विभाग ने 6 जिलों में जारी किया रेड अलर्ट
  • NDRF, SDRF, पुलिस राहत और बचाव कार्यों में जुटी
मुंबई। महाराष्ट्र में बारिश का कहर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। राज्य में पिछले 2 दिनों में वर्षा जन्य हादसों में 129 लोगों की मौत हो गई। मौसम विभाग ने आज भी 6 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है।

महाराष्ट्र में पिछले 48 घंटों में मरने वालों की संख्या 129 पहुंच गई है। ज्यादातर मौतें रायगढ़ और सतारा जिलों से हुई हैं। भूस्खलन के अलावा कई लोग बाढ़ के पानी में बह गए।

पंचगंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर : पश्चिमी महाराष्ट्र के पुणे मंडल में भारी बारिश और नदियों के उफान पर होने के चलते 84,452 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। इनमें 40,000 से अधिक लोग जिले से हैं। कोल्हापुर शहर के पास पंचगंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।
सतारा भारी बारिश और भूस्खलन की घटनाओं से बुरी तरह प्रभावित हुआ है। सतारा जिले में विभिन्न घटनाओं में 27 लोग मारे गए। भूस्खलन के बाद करीब 30 लोग लापता हैं।
राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) टीमों, स्थानीय आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ, पुलिस और जिला प्रशासन द्वारा राहत एवं बचाव कार्य जारी है। भारतीय सेना ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में स्थानीय प्रशासन की मदद के लिए अपनी टीमें तैयार की हैं।
6 जिलों में रेड अलर्ट : भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने महाराष्ट्र के वर्षा ग्रस्त 6 जिलों के लिए 'रेड अलर्ट' जारी करते हुए 'अत्यधिक बारिश' का पूर्वानुमान व्यक्त करते हुए एहतियाती उपायों की अनुशंसा की है। अगले 24 घंटे के लिए तटीय कोंकण इलाके में रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों के साथ ही पश्चिमी महाराष्ट्र के पुणे, सतारा और कोल्हापुर जिलों में रेड अलर्ट जारी किया गया है।



और भी पढ़ें :