इंदौर जू में पिंजरे से रहस्यमय तरीके से लापता हुआ तेंदुआ

Last Updated: गुरुवार, 2 दिसंबर 2021 (22:41 IST)
इंदौर। शहर के जू में गुरुवार को उस समय हड़कंप मच गया जब पिंजरे में बंद एक जख्‍मी लापता हो गया। इस तेंदुए को बुरहानपुर से लाया गया था।

जानकारी के मुताबिक इस तेंदुए को बुरहानपुर से पकड़कर लाया गया था। शिफ्टिंग करने के लिए रात को पिंजरे में ही रखा गया था। जब जू कर्मचारियों ने सुबह पिंजरा देखा तो तेंदुआ उसमें से गायब था।

जू के मुताबिक बारिश से बचने के लिए पिंजरे को ढककर रखा गया था। खास बात यह है कि तेंदुए के दोनों पैरों में चोट लगी है। इसके बावजूद उसका पिंजरे से गायब होना आश्चर्य का विषय बना हुआ है। इस बीच, घटना की जानकारी मिलने के बाद के वरिष्ठ अधिकारी जू पहुंच गए।

प्रशासन भी अलर्ट :

तेंदुए के भागने की सूचना मिलने के बाद पुलिस-प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। इस बात की आशंका है कि यदि तेंदुआ जू से ही भागा है तो वह आसपास के रहवासी इलाकों में जा सकता है और लोगों पर हमला भी कर सकता है।
बताया जा रहा है कि तेंदुए को बुधवार रात 9 बजे के लगभग बुरहानपुर वन विभाग के कर्मचारी एक वाहन में रखे पिंजरे में लेकर इंदौर जू आए थे। अहम बात यह भी है कि वन विभाग का एक कर्मचारी इस वाहन के साथ रातभर वहीं मौजूद था।
इस बात की भी आशंका जताई जा रही है कि रास्ते में ही पिंजरे से निकल गया हो। हालांकि इस संबंध में अभी कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। जिम्मेदार भी फिलहाल बात करने से बच रहे हैं।



क्या कहा जू प्रभारी ने : इंदौर जू के प्रभारी डॉ. उत्तम यादव ने बताया कि गुरुवार सुबह तेंदुए को जू में सर्च किया गया, लेकिन वह कहीं भी नहीं मिला ना ही उसके निशान मिले। 20 लोगों की टीम जू में सुबह से तेंदुए को सर्च कर रही है, जो कि रात भर जारी रहेगी। यादव ने कहा कि जिस पिंजरे में तेंदुए को बुरहानपुर से लाया गया था, वह टूटा हुआ मिला है। हालांकि तेंदुआ छोटा बच्चा है, इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है।



और भी पढ़ें :