लालकृष्ण आडवाणी की पत्नी कमला का निधन

Last Updated: गुरुवार, 7 अप्रैल 2016 (00:04 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी की पत्नी कमला आडवाणी के पर राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा कई राज्यपाल, केंद्रीय मंत्रियों एवं मुख्यमंत्रियों ने गहरा शोक व्यक्त किया।
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ.  डीके शर्मा के मुताबिक श्रीमती आडवाणी को बुधवार की शाम पांच बजकर दस मिनट पर लाया गया था। उस समय वह अचेतावस्था में थीं। उन्हें दिल का दौरा पड़ा था। श्रीमती आडवाणी को छह बजकर दस मिनट पर मृत घोषित कर दिया गया। वह 83 साल की थीं। 
 
श्रीमती आडवाणी को पिछले साल दिसंबर में भी एम्स में भर्ती कराया गया था। उनके परिवार में पति लालकृष्ण आडवाणी के अलावा बेटा जयंत और बेटी प्रतिभा हैं। आडवाणी और श्रीमती आडवाणी की शादी 1965 में हुई थी।
 
राष्ट्रपति  ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। अपने शोक संदेश में उन्होंने कहा, 'श्रीमती कमला आडवाणी मृदुभाषी और सुसंस्कृत महिला थीं और जो भी उनसे मिलता था उस पर अपनी गहरी छाप छोड़ती थीं।'
 
प्रधानमंत्री ने श्रीमती कमला आडवाणी के निधन पर दु:ख जताते हुए ट्वीट किया, 'कमला आडवाणी जी के निधन से मुझे गहरा दु:ख पहुंचा है। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। उन्होंने हमेशा कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित किया और वह लालकृष्ण आडवाणी जी की ताकत थीं। मुझे उनके साथ हुई कई बातें याद हैं। दु:ख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं आडवाणी परिवार के साथ हैं।' 
 
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आडवाणी की पत्नी पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए अपने शोक संदेश में कहा, 'श्रीमती कमला आडवाणी के निधन का समाचार सुनकर मुझे अत्यंत दुःख हुआ। वे आडवाणी जी के सामर्थ्य और अदम्य ऊर्जा का आधार स्तंभ थीं। वे एक व्यवहार कुशल महिला थीं, उनका पूरा जीवन सादगी और त्याग का प्रतीक रहा है। सक्रिय रूप से राजनीति में न रहते हुए भी वे तमाम कार्यकर्ताओं के लिए प्रेरणास्रोत थीं। श्रीमती आडवाणी जी का निधन पार्टी के लिए एक अपूरणीय क्षति है। मैं उनके परिवार के प्रति शोक संवेदना प्रकट करता हूं। साथ ही भगवान से दिवंगत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिवार को दुख की इस घड़ी में धैर्य और साहस प्रदान करने की प्रार्थना करता हूँ।'
 
भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट किया, 'श्रीमती कमला आडवाणी के निधन का समाचार सुनकर गहरा दु:ख पहुंचा है। इस अपूरणीय क्षति के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं।' कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने शोक संदेश में कहा 'मैं आडवाणी जी के दु:ख को समझ सकती हूं और दु:ख की इस घड़ी में मैं उनके साथ हूं। मैं श्रीमती आडवाणी की आत्मा की शांति की कामना करती हूं।'
       
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा 'मैं श्री आडवाणी के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। मैं उन्हें तथा उनके परिवार के अन्य सदस्यों को इस दु:ख को सहने की शक्ति देने की प्रभु से कामना करता हूं।'
       
पंजाब के राज्यपाल कप्ताह सिंह सोलंकी ने श्रीमती आडवाणी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए आडवाणी और उनके परिजनों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त की। तमिलनाडु के राज्यपाल के रोसैया ने कहा, 'मुझे आडवाणी की पत्नी के निधन की खबर सुनकर गहरा दु:ख हुआ है। वह अपनी सहजता और मानवता के लिए जानी जाती थीं और समाजसेवा के क्षेत्र में काम करने वालों के लिए प्रेरणास्रोत थीं। ईश्वर उनके परिजनों को इस दुखद घड़ी के सहने की क्षमता दे।
 
पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने आडवाणी और उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि आडवाणी की सफलता के पीछे उनकी पत्नी की निस्वार्थ भावना और समर्पण प्रेरणास्रोत रहे हैं और इसी वजह से आडवाणी ने देश की जनता की समय में अपना पूरा समय व्यतीत किया।
         
गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने भी श्रीमती आडवाणी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, 'श्रीमती कमला आडवाणी के निधन की खबर से मुझे दु:ख पहुंचा है। इस कठिन घड़ी में मेरी संवेदनाएं लालकृष्ण आडवाणी और उनके परिवार के साथ है।'
        
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट किया, 'कमला आडवाणी जी के निधन की खबर सुनकर गहरा दु:ख हुआ है। आडवाणी और उनके परिवार के लिए यह गहरी क्षति है। मेरा हार्दिक संवेदनाएं उनके साथ हैं।'
       
केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने अपने शोक संदेश में कहा, 'मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वह उन्हें इस अपूरणीय क्षति को सहने की क्षमता दे। श्रीमती आडवाणी ने सादा जीवन जिया और वह आडवाणी परिवार के लिए आधार स्तंभ रहीं।'
         
उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने श्रीमती आडवाणी के निधन पर दुःख व्यक्त किया है। नाईक ने अपने शोक संदेश में कहा है कि 'श्रीमती कमला आडवाणी वास्तव में अर्धांगिनी थीं। आडवाणी जब चुनाव एवं पार्टी के कार्यों में व्यस्त होते तो श्रीमती कमला आडवाणी घर और परिवार के दायित्वों को संभालने के साथ-साथ चुनावी प्रचार-प्रसार में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेती थी।'
        
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने अपने संदेश में शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा की शान्ति की कामना की है।  मध्यप्रदेश के मंत्रि-परिषद के सदस्यों ने पूर्व उप प्रधानमंत्री एवं वरिष्ठ राजनेता लालकृष्ण आडवाणी की धर्मपत्नी श्रीमती कमला आडवाणी के निधन पर श्रद्धांजलि दी है।
        
मंत्रीगण सर्वश्री बाबूलाल गौर, जयंत मलैया, गोपाल भार्गव, डॉ. गौरीशंकर शेजवार, सुश्री कुसुम महदेले, सरताज सिंह, गौरीशंकर बिसेन, डॉ. नरोत्तम मिश्रा, विजय शाह, उमाशंकर गुप्ता, श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, पारस जैन, अंतर सिंह आर्य, रामपाल सिंह, ज्ञान सिंह, श्रीमती माया सिंह और भूपेन्द्र सिंह ने श्रीमती आडवाणी को समाज-सेवा के प्रति सदैव तत्पर रहने वाली शिष्ट महिला बताया है।
        
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने श्रीमती आडवाणी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। कुमार ने दिवंगत आत्मा की चिर शान्ति तथा उनके परिजनों, अनुयायियों एवं प्रशंसकों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य रखने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। (वार्ता)



और भी पढ़ें :