Fishermen Missing: गुजरात के गीर सोमनाथ के समुद्र में बड़ा हादसा, तूफान की वजह से डूबीं 15 नावें, 10 लोगों के डूबने की आशंका

Last Updated: गुरुवार, 2 दिसंबर 2021 (10:32 IST)




अहमदाबाद/वेरावल। के समुद्र तटीय गिर ज़िले के नवा बंदर के निकट ख़राब मौसम के बीच अचानक बही तेज़ हवा और तूफ़ानी लहरों के चलते समुद्र में 1 दर्जन से अधिक नौकाओं के पलट जाने और इन पर सवार 10 से अधिक मछुआरों के डूब जाने आशंका हैं।

नवा बंदर पुलिस स्टेशन ने कम से कम 5 नौकाओं के डूबने और आठ मछुआरों के लापता होने की पुष्टि की है। आधिकारिक सूचना के अनुसार तेज़ हवा और अरब सागर में उठी ऊंची लहरों के चलते रात 11 बजे से सुबह 3 बजे के बीच नवा बंदर जेट्टी पर बंधी कम से कम 5 नौकाए डूब गई हैं और इन पर सवार 8 लोग लापता हैं।

पुलिस सूत्रों के अनुसार यह संख्या केवल जेट्टी के निकट की नौकाओं की है इसलिए कुल संख्या अधिक हो सकती हैं क्योंकि कई नौकाए मछली पकड़ने के लिए पहले से समुद्र में थीं।
गिर सोमनाथ ज़िले के पुलिस अधीक्षक राहुल त्रिपाठी ने भी अब तक 5 से 6 नौकाओं के समुद्र में बह जाने और आठ मछुआरों के लापता होने की पुष्टि करते हुए यूएनआई को बताया कि पुलिस और तट रक्षक दल यानी कोस्ट गार्ड्स की संयुक्त टीम तलाशी अभियान में जुटी है।

उन्होंने भी नौकाओं और लापता मछुआरों की संख्या और अधिक होने की आशंका से इंकार नहीं किया। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि यह तूफ़ानी प्रणाली स्थानिक प्रकृति की थी यानी केवल नवा बंदर और आसपास तक सीमित थी। ज़िले के क़रीब 160 किमी के तटीय इलाक़ों में से किसी अन्य से इस तरह की घटना को सूचना अभी तक नहीं है। लापता मछुआरों की खोजबीन की जा रही है। इसके लिए तट रक्षक दल की मदद से व्यापक तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

पश्चिमी विक्षोभ और चक्रवाती प्रणाली और निम्न दबाव के क्षेत्र के चलते गुजरात में पिछले 24 घंटे से बेमौसम की बरसात हो रही है। इस दौरान कुल 151 में से 129 तालुक़ा में बरसात हुई है। सर्वाधिक छह इंच बरसात दक्षिण गुजरात के उमरपाड़ा में हुई है।



और भी पढ़ें :