Corona की संभावित लहर, दिल्ली में 30 हजार बेड तैयार

पुनः संशोधित बुधवार, 1 दिसंबर 2021 (15:25 IST)
नई दिल्ली। केजरीवाल सरकार कोरोना के नए वेरिएंट से निपटने के लिए एक्शन में है और इसके खतरे को देखते हुए अपनी तैयारियों को पुख्ता करने में जुट गई है। इस संबंध में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सचिवालय में उच्च स्तरीय बैठक कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली सरकार ने 30 हजार बेड तैयार कर लिए हैं, जिसमें 10 हजार आईसीयू बेड शामिल हैं। साथ ही, फरवरी तक और 6800 आईसीयू बेड हो तैयार जाएंगे। वहीं, हम ऐसी व्यवस्था बना रहे हैं कि जरूरत पड़ने पर दो हफ्ते की नोटिस पर दिल्ली के हर वार्ड में 100-100 ऑक्सीजन बेड तैयार कर पाएंगे।

इस तरह हमारी तैयारी 64 से 65 हजार बेड तैयार करने की है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि ऑक्सीजन प्रबंधन के लिए सभी टैंक में टेलीमेट्री डिवाइस लगाने के निर्देश दिए गए हैं, ताकि रियल टाइम पर उपलब्ध ऑक्सीजन की जानकारी मिलती रहे। दिल्ली में अब तक 93 फीसद लोग वैक्सीन की पहली डोज और 57 फीसद लोग दूसरी डोज लगवा चुके हैं। सभी से अपील है कि जिन लोगों ने अभी दूसरी डोज नहीं लगवाई है, वे आगे आकर दूसरी डोज जल्द लगवा लें।
ओमिक्रोन को लेकर गंभीर : दिल्ली सरकार कोरोना की संभावित नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर बेहद गंभीर है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल स्वयं कोरोना के नए वैरिएंट से दिल्ली वासियों को सुरक्षित रखने को लेकर की जा रही तैयारियों पर नजर बनाए हुए हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज दिल्ली सचिवालय में एक उच्च स्तरीय बैठक कर तैयारियों की समीक्षा की।

समीक्षा बैठक में मुख्य रूप से कोरोना की वर्तमान स्थिति, टेस्टिंग और रोकथाम के उपाय, कोविड-19 बेड में वृद्धि, कोविड प्रबंधन के लिए लोगों की ट्रेनिंग, कोविड-19 के लिए दवाओं की खरीद, होम आइसोलेशन व 1031 हेल्पलाइन, ऑक्सीजन, वैक्सीनेशन, जीनोम सिक्वेंसिंग, आईजीआई एयरपोर्ट पर उतरने वाले यात्रियों की जांच की तैयारी समेत सभी बिंदुओं की बारीकी से समीक्षा की।
समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत, मुख्य सचिव और सभी जिलाधिकारियों समेत संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि कोरोना के के खतरे को देखते हुए सभी विभागों के साथ बैठक कर तैयारियों का जायज़ा लिया। आईसीयू बेड्स से लेकर ऑक्सीजन और दवाइयों से लेकर वैक्सीनेशन तक युद्ध स्तर पर तैयारियां कर रहे हैं। आप सभी कोरोना से बचकर रहे, अपना और अपने परिवार का ख्याल रखें।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तैयारियों की जानकारी देते हुए कहा कि ओमिक्रोन वायरस ने दुनिया भर में सबकी चिंता बहुत ज्यादा बढ़ा दी है। भगवान करें कि ओमिक्रोन वायरस भारत में न आए। अगर दिल्ली में ओमिक्रेान वायरस आता है, तो एक जिम्मेदार सरकार होने के नाते हमारा फर्ज है कि उससे निपटने के लिए हम अपनी सारी तैयारियां पूरी कर लें।
2.25 करोड़ वैक्सीन डोज : दिल्ली सरकार कोरोना से सुरक्षित रखने के लिए अपने नागरिकों को वैक्सीन लगाने को लेकर शुरू से ही बहुत गंभीर रही है। इसी का परिणाम है कि दिल्ली में अब 2.25 करोड़ वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। इसमें 137.94 लाख लोगों ने वैक्सीन की पहली डोल ली है, जबकि 87.05 लाख लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज दी जा चुकी है। वहीं, 45 वर्ष से अधिक उम्र के 42.14 लाख लोगों को एक डोज दी जा चुकी है, जबकि 31.44 लाख लोगों को दोनों डोज दी जा चुकी है।
इसी तरह, 18 से 44 वर्ष तक के 88.75 लाख लोगों को एक डोज और 49.37 लाख लोगों को दोनों डोज दी जा चुकी है। 2.61 लाख हेल्थ वर्कर्स ने एक डोज और 2.34 लाख ने दोनों डोज ले ली है। जबकि 4.44 लाख फ्रंट लाइन वकर्स ने एक डोज और 3.90 लाख ने वैक्सीन की दोनों डोज ले ली है। अभी तक जिन लोगों ने वैक्सीन नहीं लगवाई है, दिल्ली सरकार ऐसे लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाने के लिए विभिन्न माध्यमों से जागरूक कर रही है।




और भी पढ़ें :