Weather Alert: तूफान गुलाब से वर्षा की संभावना, कई राज्यों में हुई बारिश

Last Updated: सोमवार, 27 सितम्बर 2021 (09:34 IST)
नई दिल्ली। उत्तर पश्चिम और उससे सटे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती पिछले 6 घंटों के दौरान 10 किमी प्रति घंटे की गति से आगे बढ़ा है। 26 सितंबर को 5.30 बजे यह लगभग 18.3 डिग्री अक्षांश और 87.3 देशांतर था, जो गोपालपुर से 270 किमी पूर्व दक्षिण पूर्व और कलिंगपट्टनम से 330 किमी पूर्व में था। यह पश्चिम दिशा में आगे बढ़ेगा और मध्यरात्रि के आसपास कलिंगपट्टनम और गोपालपुर के बीच उत्तरी आंध्रप्रदेश और दक्षिण ओडिशा के तट को पार कर सकता है। लैंडफॉल के समय हवा की गति 75 से 85 किमी प्रति घंटे से लेकर 90-100 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है।
ALSO READ:
तूफान गुलाब का कहर, तेज किया गया राहत अभियान

स्काईमेट के अनुसार चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्वोत्तर अरब सागर के ऊपर बना हुआ है। मानसून की ट्रफ रेखा जैसलमेर, कोटा, रायपुर, पुरी और फिर पूर्व दक्षिण पूर्व की ओर से होकर चक्रवात गुलाब के केंद्र की ओर जा रही है। मध्य मध्यप्रदेश के उत्तरी भागों में चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। 27 सितंबर के आसपास पूर्वोत्तर और इससे सटे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक और चक्रवात हवाओं के क्षेत्र के मंदिर की संभावना है, जो कम दबाव के क्षेत्र के गठन को प्रभावित कर सकता है।




पिछले 24 घंटों के दौरान मध्यप्रदेश, उत्तरी गुजरात के कुछ हिस्सों, तेलंगाना, उत्तरी गुजरात के अलग-अलग हिस्सों, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, तटीय आंध्रप्रदेश के तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कहीं-कहीं भारी भारी हुई। उत्तरप्रदेश के कुछ हिस्सों, पूर्वी राजस्थान, गुजरात क्षेत्र, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, हरियाणा के अलग-अलग हिस्सों, तटीय ओडिशा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश हुई। उत्तराखंड के कुछ हिस्सों, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों, सिक्किम, पूर्वोत्तर भारत के अलग-अलग हिस्सों, आंतरिक ओडिशा और केरल में हल्की बारिश हुई।


मानसून की वापसी में होगी देरी: मौसम विभाग के अनुसार मानसून की वापसी में देरी होगी तथा इसके अक्टूबर के पहले सप्ताह तक जारी रखने की संभावना है। अगले 24 घंटों के दौरान तटीय ओडिशा और तटीय आंध्रप्रदेश में बारिश की संभावना है। इसके अलावा मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, विदर्भ, मराठवाड़ा,दक्षिण-पूर्व राजस्थान और गुजरात, केरल और अंडमान-निकोबार द्वीप समूह के अलग-अलग हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। मौसम की जानकारी देने वाली साइट स्काई मेट वेडर के अनुासर पश्चिम बंगाल, झारखंड के कुछ हिस्सों, बिहार, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, लक्षद्वीप, कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र और पूर्वोत्तर भारत में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। उत्तराखंड, तमिलनाडु और रायलसीमा में हल्की बारिश संभव है।
पूरे सप्ताह बारिश की संभावना : मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में पूरे सप्ताह बारिश की संभावना है। इस दौरान कभी बूंदाबांदी तो कभी हल्की बारिश देखने को मिल सकती है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार 2 अक्टूबर तक मौसम सुहावना बना रहेगा और तापमान के भी सामान्य रहने की संभावना है। मौसम विभाग का अनुमान है कि सोमवार को दिनभर बादल छाए रहेंगे। हल्की बारिश देखने को मिल सकती है।



और भी पढ़ें :