आशरीन ने पैरों में गिरकर भगवान और अल्‍लाह दोनों का वास्‍ता दिया, कोई उसके पति को बचाने नहीं आया, दरिंदगी का वीडियो बनाते रहे तमाशबीन

owner killing
पुनः संशोधित शुक्रवार, 6 मई 2022 (12:51 IST)
हमें फॉलो करें
जब आशरीन के पति का कत्‍लेआम किया जा रहा था, उसके सिर के टूकड़े किए जा रहे थे और उस पर चाकू के वार किए जा रहे थे तब आसपास खड़ी भीड़ यह दृश्‍य देखकर इस खून खराबे का वीडियो बना रही थी।

आशरीन चिल्‍लाती रही, पुकारती रही कि मेरे राजू को बचा लो। उसने भगवान का और अल्‍लाह दोनों का वास्‍ता दिया, लेकिन किसी का भी दिल नहीं पसीजा।

ये घटना हैदराबाद की है, जब एक हिंदू युवक के मुस्‍लिम महिला से शादी करने पर ऑनर कीलिंग की घटना को अंजाम दिया गया।

दरअसल, आशरीन सुल्ताना नाम की युवती ने नागराजू नाम के हिंदू युवक से शादी की थी। जिसके बाद आशरीन के परिवार वालों ने बीच चौराहे पर चाकूओं से गोद कर और रॉड से सिर के टुकड़े कर के राजू की हत्‍या कर दी। इस दौरान लोगों ने वीडियो तो बनाया, तो किसी ने तस्‍वीरें खींची। लेकिन बचाने की कोशिश नहीं की।

दराबाद के सरूरनगर में मुस्लिम लड़की से शादी करने वाले नागराजू को एक भीड़-भाड़ चौराहे पर मार डाला गया। घटना उस समय की है जब नागराजू अपनी पत्नी आशरीन सुल्ताना के साथ बाइक पर सरूरनगर की तरफ जा रहे थे। नागराजू को आशरीन के भाई और उसके दोस्‍तों ने मारा क्‍योंकि वे इस शादी के खिलाफ थे।

प्‍यार के बाद की थी शादी
नागराजू रंगारेड्डी जिले के मरपल्ली गांव के रहने वाले थे जबकि सुल्ताना उसके पड़ोसी गांव घानापुर में रहती थी। दोनों सात साल से रिलेशनशिप में थे। लेकिन सुल्ताना का परिवार नागराजू के खिलाफ था। 31 जनवरी को नागराजू और सुल्ताना ने भागकर लाल दरवाजा इलाके में आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली और शादी के बाद सुल्ताना ने अपना नाम बदलकर पल्लवी रख लिया था।

पैरों में गिरकर भीख मांगती रही पल्‍लवी
जब नागराजू को मारा जा रहा था तो वहीं खड़ी भीड़ सच में मुर्दा ही थी। इसे आप पल्‍लवी के बयान से समझ सकते हैं। पल्‍लवी कहती हैं, 'मैंने सिग्नल पर रुके लोगों के पैर पकड़े, उनसे मदद मांगी। उनसे कहा मेरे पति को बचा लो। लेकिन कोई मदद को नहीं आया। मैं बार-बार अपने भाई और लोगों के पास जाकर उन्हें छोड़ने को कह रही थी। मैंने उनसे कहा कि अगर इसे मार दिया तो मैं भी मर जाऊंगी अगर आप लोगों ने इसे मार दिया तो मैं भी जिंदा नहीं रहूंगी। लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी। मैंने उसने यह भी कहा कि मैं इन्हें छोड़ दूंगी, किसी और से शादी कर लूंगी। जिससे कहेंगे उससे शादी कर लूंगी। लेकिन उन्होंने नहीं सुनी।'

मामले अब तक में दो आरोपियों को पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी सैयद मोबिन अहमद (30) और मोहम्मद मसूद अब्दुल हमीद (29) ने बुधवार को नागराजू की बीच सड़क हत्या कर दी थी। हत्या के बाद उसकी पत्नी आशरीन सुल्ताना उर्फ पल्लवी ने मीडिया के सामने आकर अपने भाइयों और रिश्तेदारों पर इस हत्या का आरोप लगाया है। पल्लवी ने कहा कि मेरे पति की दिनदहाड़े बीच सड़क पर हत्या कर दी। वहां हमारी मदद के लिए कोई नहीं आया। उन्होंने मेरी आंखों के सामने मेरे पति को बड़ी निर्दयता से मार दिया। मेरा भाई पहले से ही इस शादी को लेकर आक्रामक था। लेकिन नागराजू ने कहा था कि वो उसी के साथ जिएगा या मर जाएगा।



और भी पढ़ें :