अमित शाह ने बताया- भारत स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में कैसे बनेगा नंबर 1?

Last Updated: शनिवार, 26 मार्च 2022 (16:40 IST)
हमें फॉलो करें
गांधीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री ने शनिवार को कहा कि बच्चों के लिए स्वास्थ्य जांच और रियायती दवाओं के लिए जन औषधि केंद्र के साथ, इन योजनाओं का उद्देश्य लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा प्रदान करना है। मेरा मानना है कि आज जो जागरूकता पैदा हुई है उससे स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में दुनिया में एक बनेगा।

भोयन मोती गांव में एक सभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश, गोवा, मणिपुर और उत्तराखंड की जीत ने प्रधानमंत्री के नेतृत्व में लोगों का भरोसा दिखाया है।
उन्होंने कहा कि
4 राज्यों में भाजपा की ‘प्रचंड’ जीत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भारत को सुरक्षित, समृद्ध और शक्तिशाली बनाने के लिए शुरू की गई नीतियों और परियोजनाओं की स्वीकृति का प्रमाण है।


इससे पहले, शाह ने अहमदाबाद के सोला सिविल अस्पताल में के पहले ऑडियोलॉजी स्पीच लैंग्वेज पैथोलॉजी कॉलेज और एक डाइट सेंटर का उद्घाटन किया, जिससे गुजरात इस तरह का संस्थान शुरू करने वाला देश का पांचवा राज्य बन गया।

शाह ने कहा कि वह लंबे समय के बाद अपने लोकसभा क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं क्योंकि वह उन पांच राज्यों में चुनाव प्रचार और प्रबंधन में व्यस्त थे, जिनमें से भाजपा ने जीत हासिल की और चार राज्यों में सरकारें बनाईं। केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘और इन सभी चार राज्यों में कांग्रेस खत्म हो गई है, वह कहीं नहीं दिख रही है। प्रचंड जीत उस भरोसे को दर्शाती है जो भारत के लोगों का नरेंद्रभाई (मोदी) के नेतृत्व में है।’’

शाह ने कहा कि भाजपा की यह प्रचंड जीत नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों की स्वीकार्यता को दर्शाती है। भारत को सुरक्षित, समृद्ध और शक्तिशाली बनाने के लिए नरेंद्रभाई द्वारा चलाए गए अभियान पर जनता की स्वीकृति की मुहर भारी जीत है।

उन्होंने कैंसर जागरूकता अभियान की शुरुआत करते हुए कहा कि मोदी ने गरीबों, किसानों या कारखाने के कर्मचारी सहित सभी वर्गों के स्वास्थ्य की परवाह की। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना ने देश में 100 करोड़ लोगों को कवर किया है।



और भी पढ़ें :