AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी बोले- अल्लाह का शुक्र है कि हमारे बुजुर्ग पाकिस्तान नहीं गए वरना पागलों को हमें ही देखना पड़ता...

हिमा अग्रवाल| Last Updated: बुधवार, 27 अक्टूबर 2021 (21:24 IST)
मुजफ्फरनगर। AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिमों को रिझाने के लिए पश्चिमी यूपी में कवायद तेज कर दी है। ओवैसी ने आज किसानों के नेता राकेश टिकैत के गढ़ मुजफ्फरनगर में चुनावी हुंकार भरी है।


उन्होंने अपनी चुनावी सभा में कहा कि मैने तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बोला था कि के साथ मैच मत खेलो। भारत बदकिस्मती से हार गया, हार का इल्जाम मोहम्मद शमी के सिर फोड़ दिया गया।

ओवैसी ने कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम में केवल एक खिलाड़ी शमी ही था, भार का दाग शमी पर क्यों लग रहा है यह हमारी तकलीफ है।

हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में एक पागल मंत्री है, उसने कह दिया कि पाकिस्तान जीता है तो इस्लाम की कामयाबी हो गई। अरे अहमक इस्लाम को क्रिकेट से क्या करना है। अल्लाह का शुक्र है कि हमारे (पाकिस्तान) नहीं गए वहां वरना इन पागलों को हमें ही देखना पड़ता।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने 8 साल पहले मुजफ्फरनगर में हुए दंगे के जख्मों को हरा करते हुए तत्कालीन समाजवादी पार्टी सरकार को भी घेरा। उन्होंने कहा कि जिस समय मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक दंगे हुए उस समय विधानसभा में लगभग 70 मुस्लिम विधायक थे, लेकिन दंगे की आड़ में उन्हें इतना कमजोर कर दिया गया कि वे आवाज नहीं उठा पाए।
सरवट बझेड़ी रोड पर आयोजित जनसभा में भीड़ देखकर ओवैसी गदगद थे। उन्होंने कहा कि वे आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में मजलिस का उम्मीदवार जीताकर भेजेंगे। मजलिस किसी के साथ नाइंसाफी नहीं होने देगी, चाहे वह मुस्लिम हो या हिन्दू भाई हो, चाहे वह दलित भाई हो, हम सबके साथ रहेंगे।



और भी पढ़ें :