कोझिकोड विमान हादसा : AAI प्रमुख ने कहा, जांच रिपोर्ट मिलने के बाद करेंगे कार्रवाई

Last Updated: रविवार, 9 अगस्त 2020 (02:14 IST)
नई दिल्ली। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के चेयरमैन अरविंद सिंह ने शनिवार को कहा कि कोझिकोड हवाईअड्डे पर शुक्रवार को हुए एयर इंडिया एक्सप्रेस विमान हादसे की जांच रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद सुधारात्मक कार्रवाई की जाएगी।
टेबल-टॉप रनवे (पठार या पहाड़ी के शीर्ष पर स्थित रनवे) वाले हवाईअड्डे का संचालन एएआई करता है।विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो (एएआईबी) कोझिकोड हवाईअड्डे पर हुए इस हादसे की जांच कर रहा है जिसमें विमान के दो पायलटों समेत कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई। दुर्घटनास्थल से डिजिटल फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर (डीएफडीआर) और कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर (सीवीआर) बरामद कर लिया गया है।

सिंह ने कहा कि राहत कार्य पूरा हो गया है और एएआईबी की रिपोर्ट आ जाने के बाद दुर्घटना के कारणों का पता लग जाएगा। उन्होंने कहा, यह रिपोर्ट हमें सभी मुद्दों के बारे में जानकारी दे देगी। हम जांच रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं और फिर हम सुधारात्मक कदम उठाएंगे।

एएआई की नजर में हाल के दिनों में सुरक्षा से जुड़ा कोई मुद्दा आया था, यह पूछे जाने पर सिंह ने न में जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से पहले, कोझिकोड हवाईअड्डे पर हर दिन करीब 70 उड़ानों का प्रस्थान और 70 का आगमन हुआ करता था।

देश में 25 मई से घरेलू विमान सेवा शुरू होने के बाद से यहां 10 उड़ानों का प्रस्थान और 10 का आगमन हो रहा था। कोविड-19 वैश्विक महामारी के मद्देनजर मार्च के अंत में घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय विमान सेवाओं पर रोक लगा दी गई थी। घरेलू विमान सेवा जहां 25 मई को शुरू हो गई थी वहीं अंतरराष्ट्रीय विमान सेवाओं पर रोक जारी है।

हालांकि विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन हो रहा है। शुक्रवार को जो विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ उसका संचालन वंदे भारत मिशन के तहत हो रहा था जो दुबई से लोगों को लेकर कोझिकोड आ रहा था।

मृत पायलटों के परिवारों को कोझिकोड ले जाया गया : केरल में दुर्घटनाग्रस्त हुए एयर इंडिया एक्सप्रेस के मृत पायलटों के परिवारों को कोझिकोड ले जाया गया है। एयरलाइन ने शनिवार को यह जानकारी दी। एयरलाइन ने कहा कि केरल के कोझिकोड हवाई अड्डे पर शुक्रवार शाम विमान दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 18 हो गई है।

एक बयान में कहा गया कि दुर्घटना में जान गंवाने वाले पायलट-इन-कमांड कैप्टन दीपक वसंत साठे के परिवार को मुंबई से कोझिकोड ले जाया गया। एयरलाइन ने बताया कि उनके परिजन को उस अस्पताल में ले जाया गया, जहां साठे का शव पोस्टमार्टम के लिए रखा गया है।

एयरलाइन ने बताया कि मृत सह-पायलट कैप्टन अखिलेश कुमार के परिवार को पहले ही उसके अधिकारियों और एक विशेष सहायता दल 'एंजल्स ऑफ एअर इंडिया' ने दिल्ली से कोझिकोड पहुंचा दिया है। एयरलाइन ने कहा कि पायलट-इन-कमांड साठे बोइंग 737-800 विमान के एक अनुभवी पायलट थे और इससे पहले एयरबस ए310 विमान भी उड़ा चुके थे।
उल्लेखनीय है कि दुबई से 190 लोगों के साथ आ रही एयर इंडिया एक्सप्रेस की एक उड़ान शुक्रवार को यहां भारी बारिश के बीच हवाईअड्डे पर उतरते समय हवाईपट्टी पर फिसलने के बाद 35 फुट नीचे खाई में जा गिरी थी। इस हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई।(भाषा)



और भी पढ़ें :