बीबीसी कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म की नई वेबसाइट

WD|
PR
बीबीसी एकेडमी के कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म ने बीबीसी हिन्दी के लिए एक नई, निःशुल्क वेबसाइट शुरू की है। हिन्दी में उपलब्ध बीबीसी एकेडमी की वेबसाइट पर बीबीसी की पत्रकारिता की मौलिक बातों की चर्चा की गई है जिनमें संपादकीय मूल्य, हिन्दी का प्रयोग और पत्रकारिता का कौशल जैसे चीज़ें शामिल हैं। साथ ही ये वेबसाइट दुनियाभर के हिन्दी भाषी पत्रकारों को उपयोगी जानकारियाँ देती हैं।


साथ ही इस वेबसाइट पर पत्रकारिता के अन्य क्षेत्रों के बारे में भी सामग्री दी गई है, जैसे मल्टीमीडिया पत्रकारिता यानी टीवी, रेडियो और ऑनलाइन के लिए प्रोडक्शन, प्रेज़ेंटेशन और लिखना तथा सोशल मीडिया। वेबसाइट का उद्देश्य साथ ही निश्चित डेडलाइन के भीतर दबाव के बीच कार्यक्रम तैयार और प्रस्तुत करने में पत्रकारों की सहायता करना है।
बीबीसी कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म की अंतरराष्ट्रीय वेबसाइटों की संपादक नजीबा कसरी कहती हैं कि हिन्दी वेबसाइट का उद्देश्य उस भाषा में बीबीसी पत्रकारों की सहायता करना है जिसमें कि वो प्रसारण करते हैं और साथ ही बीबीसी के जनहित उद्देश्यों के तहत, इसके पत्रकारीय संसाधनों को दुनियाभर के पत्रकारों के साथ बाँटना है। मुझे उम्मीद है कि ये नई वेबसाइट सतत बदलते डिजिटल माहौल में सबके लिए कुछ न कुछ उपयोगी हो पाएगी।

बीबीसी हिन्दी के डिजिटल एडिटर, राजेश प्रियदर्शी इस बारे में और कहते हैं कि सभी पत्रकारों को ये लगता है कि दूसरों से सवाल करना उनका अधिकार है, मगर अक्सर उन्हें अपने पत्रकारीय निर्णयों के बारे में उलझाने वाले सवालों का सामना करना होता है। बीबीसी कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म की वेबसाइट पत्रकारिता से जुड़े मुद्दों की चर्चा करती है, साथ ही वो पूरी जानकारी प्राप्त कर सोच-समझकर निर्णय लेने में पत्रकारों के लिए गाइड का काम करेगी। कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म की गाइड युवा भारतीय पत्रकारों को विश्वसनीय, संतुलित, सटीक और निष्पक्ष पत्रकारिता की बुनियादी बातों को समझाने में मदद करेगी, जिनमें भाषा के इस्तेमाल से लेकर क़ानूनी पाबंदियों, मानहानि और कॉपीराइट जैसी बातें शामिल हैं। भारत के उभरते बाज़ार में काम करने वाले पत्रकारों को ये गाइड उपयोगी लगेगी, क्योंकि इसका उद्देश्य हर मुद्दे पर व्यावहारिक उदाहरणों के सहारे उनकी निर्णय क्षमता को बेहतर बनाना है।

इस वेबसाइट पर तीन मुख्य श्रेणियाँ हैं:

भाषा:
Language: //www.bbc.co.uk/academy/hindi/language

हिन्दी वेबसाइट की भाषा श्रेणी में एक शब्दावली है जिसे हिन्दी, उर्दू और अंग्रेज़ी भाषाओं के लिए काम करने वाले पत्रकारों के लिए बनाया गया है। इसे बीबीसी की हिन्दी और उर्दू सेवाओँ ने मिलकर तैयार किया है। यहाँ निष्पक्ष, संवेदनशील और साधारण भाषा के बारे में भी सामग्री दी गई है।
कौशल:
Skills: //www.bbc.co.uk/academy/hindi/how-to
यहाँ बीबीसी के पत्रकार अपने अनुभवों के बारे में बता रहे हैं कि कैसे सोशल मीडिया क्रांति के समय के बदलते भारत में नए श्रोताओं तक पहुँच बनाई जा सके। यहाँ मौलिक पत्रकारिता, बहु-माध्यम पत्रकारिता और द्विभाषी रिपोर्टिंग के बारे में विशिष्ट प्रशिक्षण सामग्री उपलब्ध है। यहाँ बीबीसी हिन्दी ब्यूरो की ओर से एक वीडियो लगाया गया है, जो बीबीसी की पहुँच को दर्शाते हैं, जहाँ उनका अपना एक रिपोर्टर दिल्ली, इस्लामाबाद और दक्षिण भारत के केरल प्रदेश से रिपोर्ट करता है। इस श्रेणी में ये भी बताया गया है कि कैसे सोशल मीडिया पर आने वाली ख़बरों की जाँच हो सकती है और कैसे ऑनलाइन समुदाय बनाए जा सकते हैं। रेडियो प्रस्तोताओं को यहाँ ब्रेकिंग न्यूज़ आने की स्थिति में शांत और सहज कैसे रहें, इसके भी कुछ गुर सुझाए गए हैं।
गुणवत्ता
Standards: //www.bbc.co.uk/academy/hindi/standards
इस श्रेणी में लोगों को उन संपादकीय मूल्यों की जानकारी मिलेगी, जो बीबीसी की पत्रकारिता की बुनियाद हैं, जैसे सत्य और सटीक रहना, निष्पक्षता, जवाबदेही, जनहित और स्वतंत्रता। यहाँ बताया गया है कि बीबीसी की नीतियाँ और मूल्य क्यों उसके पत्रकारों की पत्रकारिता का मार्गदर्शन करते हैं। यहाँ कॉपीराइट क़ानूनों, अदालत की अवमानना, मानहानि और व्यक्तिगत स्वतंत्रता जैसे विषयों पर भी ख़ास सामग्री दी गई है।
बीबीसी कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म की हिन्दी वेबसाइट ऐसे समय जारी की गई है, जब बीबीसी के कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म की अंग्रेज़ी वेबसाइट को दुनियाभर में निःशुल्क उपलब्ध करवाया गया हैः //www.bbc.co.uk/academy/journalism.
बीबीसी एकेडमी ने हिन्दी वेबसाइट के साथ ही बीबीसी वर्ल्ड सर्विस की अन्य भाषाओं की वेबसाइटों को भी जारी किया है। ये हैं- फ़्रेंच French, इंडोनेशियाई Indonesian और तुर्क Turkish
ये सभी वेबसाइटें बीबीसी हिन्दी, बीबीसी ऐफ़्रीक़, बीबीसी इंडोनेशिया और बीबीसी तुर्की की समाचार वेबसाइटों के माध्यम से भी उपलब्ध रहेंगी। इन नई वेबसाइटों के साथ ही बीबीसी एकेडमी की अंतरराष्ट्रीय निःशुल्क वेबसाइटों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है। अरबी, बर्मी, साधारण स्वरूप में चीनी, पारंपरिक स्वरूप में चीनी, हाउज़ा, पश्तो, फ़ारसी, रूसी, स्वाहिली, उर्दू और वियतनामी भाषाओं की वेबसाइटें पहले ही जारी की जा चुकी हैं।
संपादकों के लिए नोट:
बीबीसी एकेडमी बीबीसी का ट्रेनिंग मुख्यालय है। यहाँ कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म, प्रोडक्शन, नेतृत्व और टेक्नोलॉजी काम करते हैं। अपने कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने के साथ-साथ हमारे पास बीबीसी के चार्टर के तहत पत्रकारिता में सबको ट्रेनिंग देने का अधिकार हासिल है। हम अपने प्रशिक्षण को अन्य प्रसारकों के साथ यथासंभव निःशुल्क बाँटने का प्रयास करते हैं। हम अपने कुछ प्रशिक्षण को व्यावसायिक इस्तेमाल के लिए भी दे सकते हैं, ब्रिटेन के भीतर भी और बाहर भी।
बीबीसी एकेडमी कॉलेज ऑफ़ जर्नलिज़्म का इंटरनेशनल लैंग्वेज विभाग 28 भाषाओं की वेबसाइटों को देखता है, जो दुनिया में उन भाषाओं के महत्व वाले हिस्सों में पत्रकारिता के तीन मुख्य पहलुओं पर ध्यान देता है- कौशल, भाषा और मूल्य।

ये वेबसाइट उन संपादकीय कौशलों को दर्शाती हैं जिनका बीबीसी वर्ल्ड सर्विस की भाषाओं में काम करने वाले पत्रकार रोज़ाना की पत्रकारिता में पालन करते हैं। वे भाषा की तटस्थता और सटीक होने के बारे में बात करते हैं जिससे कि दुनियाभर के पत्रकारों को बीबीसी के भाषायी स्टाइल गाइडों को देखने का अवसर मिल सके। भाषा के इस्तेमाल वाले वर्गों में ये वेबसाइटें कुछ ख़ास मुद्दों पर ध्यान देती हैं: व्याकरण संबंधी विषय, भाषा का विकास, नए शब्द, इस्तेमाल नहीं किए जाने वाले शब्द, अनुवाद के नियम, ऑनलाइन की भाषा और, सबसे महत्वपूर्ण, तटस्थ भाषा के इस्तेमाल को साधना।



और भी पढ़ें :