0

आज भी मनाई जाएगी मकर संक्रांति, जानिए क्या करें इस दिन खास

शनिवार,जनवरी 15, 2022
0
1
Til Snan 2022: मकर संक्रांति के दिन तिल के 6 प्रयोग बताए गए हैं जिससे षटतिला कर्म कहते हैं। जो यह कर्म करता है उसका भविष्य उज्जवल होता है। षटतिला है (til ke tel ka prayog) - 1. तिल जल से स्नान करना, 2. तिल दान करना, 3. तिल से बना भोजन, 4. जल में तिल ...
1
2
Makar Sankranti 2022 rules: मकर संक्रांति के दिन सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायण होकर वातावरण में सकारात्मक तरंगों को पैदा करता है। इस दिन हमें पवित्र बने रहने की जरूरत होती है। इस दिन स्नान करना, तिल दान करना, तर्पण करान, तिल और गुड़ से बनी चीजें खाना ...
2
3
सूर्यदेव का वर्णन वेदों और पुराणों में भी किया गया है। हिन्दू धर्मानुसार भगवान सूर्यदेव (Lord Sun) एक मात्र ऐसे देव हैं जो साक्षात दिखाई देते हैं। इसके अलावा एक प्रत्यक्ष देव के रूप में सूर्यदेव
3
4
मकर संक्रांति को ही उत्तर भारत में पोंगल के रूप में मनाया जाता है। मरकर संक्रांति को उत्तर भारत में माघी संक्रांति और खिचड़ी संक्रांति भी कहा जाता है। यह दोनों ही पर्व सूर्य के उत्तरायण होने और फसल उत्सव के पर्व हैं। आओ जानते हैं दोनों ही पर्व की ...
4
4
5
आज मकर संक्रांति और पोंगल पर्व मनाया जा रहा है। यह पर्व नई फसल तथा ऋतु के आगमन पर 14 जनवरी को मनाए जाने वाले पर्व हैं। शास्त्रों के अनुसार हिन्दू धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक मकर संक्रांति (Makar Sankranti) संक्रांति का त्योहार है।
5
6
आज मकर संक्रांति है। इस बार मकर संक्रांति का वाहन सिंह और उपवाहन अश्व है। इस दिन नौ ग्रहों के राजा सूर्य अपना राशि परिवर्तन कर मकर राशि में प्रवेश करेंगे।
6
7
हम मकर संक्रांति पर राशिनुसार किए जाने वाले महादान से जुड़ी जानकारी देने जा रहे हैं जो आपको पुण्य की प्राप्ति करवाएंगे और जीवन में खुशियां लाएंगे। तो आइये जानते हैं किन वस्तुओं का दान आपके लिए शुभ रहेगा।
7
8
मकर संक्रांति पर सूर्य का प्रवेश मकर राशि में होता है और इसका हर राशि पर भी गहरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए बहुत जरूरी है यह जानना कि आपके द्वारा किया जाने वाला कौन-सा दान फलदायी साबित होगा। आइए जानें 12 राशियों के दान।
8
8
9
Surya ka makar rashi me gochar: मकर संक्रांति (Makar Sankranti) पर सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा। ऐसे में सूर्य का सभी राशियों पर (zodiac sign Astrology) प्रभाव देखने को मिलेगा। आओ जानते हैं कि मेष से लेकर मीन राशि तक के लोगों का कैसा होगा सूर्य ...
9
10
नववर्ष 2022 में मकर संक्रांति का त्योहार (Makar Sankranti 2022) शुक्रवार, 14 जनवरी को मनाया जाएगा। मकर संक्रांति का पर्व किसानों का मुख्य त्योहार माना गया है।
10
11
यह तो सभी जानते हैं कि मकर संक्रांति के दिन से सूर्य उत्तरायण होता है और यह त्योहार संपूर्ण भारत में भिन्न-भिन्न रूप में मनाया जाता है। सभी जगहों पर इस त्योहार को संपूर्ण अखंड भारत में फसलों के आगमन की खुशी के रूप में मनाया जाता है। खरीफ की फसलें कट ...
11
12
मकर संक्रांति के दिन नीचे दिए गए मंत्रों में से जो भी मंत्र आसानी से याद हो सके उसके द्वारा सूर्य देव का पूजन-अर्चन करें। फिर अपनी मनोकामना मन ही मन बोलें। भगवान सूर्य नारायण मनोकामना अवश्य पूर्ण करेंगे।
12
13
मकर संक्रांति पर्व पर कुंवारी और सुहागन महिलाएं 14 वस्तुएं बांटती हैं, यह वस्तुएं अक्सर श्रृंगार या दैनिक उपयोग से संबंधी होती हैं। सुहागन महिलाएं अपने सुहाग की रक्षा के लिए एक-दूसरे को सुहाग बांटती हैं अर्थात सुहाग का दान देती हैं और कुंवारी ...
13
14
मकर संक्रांति का पर्व 14 जनवरी को है। मत मतांतर से इसे 15 जनवरी को भी मनाया जा रहा है... मकर संक्रांति का शुभ पर्व सूर्य देव को समर्पित है। इस दिन सूर्य मकर राशि में आते हैं। इस दिन दान और स्नान का विशेष महत्व होता है।
14
15
Makar Sankranti 2022 rules: मकर संक्रांति बहुत ही पवित्र दिन होता है। इस दिन सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायण होकर वातावरण में सकारात्मक तरंगों को पैदा करता है। इस दिन गंगा में स्नान करने से हजार गुना पुण्य की प्राप्ति होती है। इस दान करने और कोई नया ...
15
16
मकर संक्रांति (Makar Sankranti 2022) सबके पसंदीदा त्योहारों में से एक है। इस दिन पतंग उड़ाने (Kite Festival) तथा तिल-गुड़ (Til-gud) के सेवन का विशेष महत्व माना गया है।
16
17
कोरोना कोविड 19 और ओमीक्रान वैरिएंट के चलते न तो गंगा या किसी अन्य नदी में स्नान कर सकते हैं और न ही बाहर संक्रांति मिलन के साथ ही संक्रांति मना सकते हैं क्योंकि इस वक्त कोराना की तीसरी लहर प्रारंभ हो गई है। ऐसे से सावधानी रखते हुए घर में ही ...
17
18
सभी को मकर संक्रांति पर्व (Makar sankranti 2022) की अनंत शुभकामनाएं। मकर संक्रांति सूर्यदेव के पूजन, खुशियां बांटने और आरोग्य पाने का त्योहार है। सूर्यदेव को ज्ञान, आध्यात्म और प्रकाश का प्रतीक माना गया है।
18
19
How to do Ganga Snan At Home: मकर संक्रांति पर गंगा नदी में स्नान करने का खासा महत्व रहता है। कहते हैं कि सूर्य की मूलत: 36 किरणों में से 7वीं किरण भारतवर्ष में आध्यात्मिक उन्नति की प्रेरणा देने वाली है। इस किरण का असर गंगा और यमुना नदी के मध्य अधिक ...
19