आईफोन के लिए छात्र ने गढ़ी खुद के अपहरण की साजिश, पिता से ही मांगी 1 लाख की फिरौती

Last Updated: शुक्रवार, 27 मई 2022 (12:00 IST)
हमें फॉलो करें
मुरैना। शहर में एक बेटे ने के लिए एक घिनौना खेल खेला। नाबालिग के सिर पर का ऐसा जुनून सवार हुआ कि उसने अपने ही की झूठी कहानी रच दी। पिता के पर अपना बंधक बना डंडे से पिटाई का वीडियो भेजकर 1 लाख रुपए की फिरौती मांगी। रुपए नहीं देने और को खबर करने पर हत्या की धमकी भी मैसेज में दी। साइबर पुलिस ने मोबाइल की के आधार पर नाबालिग को ढूंढ निकाला और इस वारदात कर पर्दाफाश कर दिया। इस घटना को सुनकर हर कोई हैरान रह गया।

पिता के मोबाइल पर भेजा अपहरण का वीडियो: जानकारी के अनुसार सिविल लाइन थाना क्षेत्र, मुरैना के प्रेमनगर इलाके में रहने वाले 11वीं क्लास के 17 वर्षीय ने अपने पिता से आईफोन 13 के लिए 1 लाख रुपए की मांग की थी। आईफोन के लिए उसने 3 दिन तक खाना नहीं खाया। इसके बाद पिता ने उसे 10 हजार का एक स्मार्टफोन लाकर दिया, लेकिन छात्र को तो आईफोन 13 ही चाहिए था। इससे खफा छात्र बुधवार की शाम अचानक लापता हो गया। उसी दिन रात 11 बजे के करीब छात्र के पिता के व्हॉट्सएप पर एक वीडियो और मैसेज आया। जिसमें नाबालिग छात्र के हाथ-पैर बंधे थे और अज्ञात व्यक्ति उसे डंडे से पीट रहा था। पिटाई से छात्र बुरी तरह कराहता दिख रहा था।
ग्वालियर किले से ढूंढ ​निकाला: किडनेप करने वाले ने छात्र के पिता से कहा कि अगर बेटे को सही सलामत वापस चाहते हो तो 1 लाख रुपए दे दो। जिसके बाद परिजनों ने सिविल लाइन थाने पहुंचकर पुलिस को सारी बात बताई। आधी रात को एसपी आशुतोष बागरी ने पुलिस और साइबर सेल टीम को सक्रिय कर दिया। दूसरे दिन गुरुवार की दोपहर छात्र को ग्वालियर किले से में ढूंढ निकाला। जहां वो अपने 17 साल के दोस्त के साथ मौजूद था। पूछताछ में छात्र ने बताया कि आईफोन के लिए उसने अपने दोस्त के साथ मिलकर खुद के अपहरण की रची थी।
महंगी चीजों का शौकीन है छात्र: नाबालिग छात्र ने ही अपने पिता को खुद के अपहरण के वीडियो के साथ एक मैसेज भेजा था। जिसमें कहा था कि पैसे नहीं दिए तो बेटे का वही हाल होगा, जो तुम्हारे पड़ोस वाले का हुआ है। नाबालिग छात्र ने जिस नंबर से वीडियो और मैसेज भेजा और जिस फोन-पे नंबर में 1 लाख रुपए मंगवाए थे, वे एक ही थे। इसी से साइबर टीम को लोकेशन तलाशने में आसानी हो गई और 10 घंटे के भीतर ही अपहरण के झूठे केस का पर्दाफाश कर दिया। छात्र ने बताया कि वह महंगी चीजों का शौकीन है। शौक पूरा करने के लिए घर से पर्याप्त पैसे नहीं मिलते थे इसलिए उसने अपहरण की साजिश रची। अब पुलिस छात्र और उसके नाबालिग दोस्त के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी कर रही है।



और भी पढ़ें :