राम और रमजान पर बंटी मध्यप्रदेश कांग्रेस, सॉफ्ट हिन्दुत्व के दांव पर बिफरे मसूद

Author विकास सिंह| Last Updated: मंगलवार, 5 अप्रैल 2022 (17:50 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। मध्यप्रदेश में रामनवरी और को लेकर सियासत शुरु हो गई है। रामनवमी और हनुमान जयंती को लेकर प्रदेश कमेटी की ओर से पत्र जारी करने के खिलाफ कांग्रेस के मुस्लिम विधायक ने एतराज जताया है।

कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने सवाल उठाते हुए कहा कि कांग्रेस का हिंदू श्रेणी हमेशा से रामनवमी और हनुमान जन्मोत्सव अच्छे से मानते है। इसे मनाने के लिए पत्र जारी करना सियासी पार्टियों के लिए ठीक नहीं है। आरिफ मसूद ने कहा कि अगर ऐसा परिपत्र रामनवमी और हनुमान जन्मोत्सव के लिए जारी करते है तो रमजान को क्यों छोड़ते है। यह मेरा ऐतराज है।

आरिफ मसूद ने अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस प्रकार के पत्र जारी करने वाले को उसको उद्देश्य बताना चाहिए। मेरी नजर में तो यह गलत है। क्योंकि मेरा साथी नवरात्र चल रहे है तो वह व्रत रख रहा है, मैं रमजान में रोजा रख रहा हूं। ऐसा हमेशा से रखते आ रहे है। इसमें पत्र जारी करने की आवश्यकता क्या है? आरिफ मसूद ने कहा कि इस प्रकार के पत्र जारी करके कांग्रेस विपक्ष को अवसर दे रही है।

भाजपा ने कसा तंज-कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के अपनी ही पार्टी को कठघरे में खड़ा करने पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस का मुस्लिमों से वास्ता सिर्फ वोट तक ही‌ सीमित है। भाजपा का भय दिखाकर कांग्रेस मुस्लिमों को वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल करती है। आरिफ मसूद की पीड़ा को समझा जा सकता है और उन्हें आत्मचिंतन करना चाहिए।




और भी पढ़ें :