मध्यप्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया बनेंगे CM, जैन संत की भविष्यवाणी

विशेष प्रतिनिधि| Last Updated: बुधवार, 23 फ़रवरी 2022 (14:32 IST)
हमें फॉलो करें
की राजनीति में एक बार फिर ज्योतिरादित्य सिंधिया चर्चा के केंद्र में आ गए है। इस बार चर्चा में आने की वजह एक जैन संत की सिंधिया को प्रदेश का भावी मुख्यमंत्री बनाने की भविष्यवाणी है। भले ही सिंधिया वर्तमान में केंद्र की मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री हो लेकिन ग्वालियर में जैन संत ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के कुछ दिनों बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बनने की भविष्यवाणी कर दी है।



जब से सिंधिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए हैं, तब से यह कयास और अटकलें लगाई जा रही है कि सिंधिया मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे। अब ग्वालियर में जैन मुनि विहर्ष सागर महाराज ने उन्हें आशीर्वाद भी दे दिया कि कि वे आने वाले दिनों में प्रदेश के मुख्यमंत्री बन सकते हैं।


दरअसल इन दिनों मंगलवार को ग्वालियर के फूलबाग स्थित अयोध्या नगरी में जैन पंचकल्याणक महोत्सव चल रहा। मंगलवार को सिंधिया अपने ग्वालियर प्रवास के दौरान फूलबाग मैदान पहुंचकर जैन मुनि विहर्ष सागर महाराज के साथ-साथ मुनि विजयेश सागर महाराज और विनिबोध सागर महाराज का आशीर्वाद लिया।

इस मौके पर मुनि विहर्ष सागर महाराज ने कहा कि सिंधिया परिवार ने हमेशा ही धर्म के प्रति अपनी आस्था जताई है। जनसेवा को अपना माध्यम बनाया है। सिंधिया जिस तरह से आम लोगों की सेवा कर रहे हैं, एवं समूचे प्रदेश के विकास के लिए चिंतित रहते हैं, उन्हें उम्मीद है कि आने वाले समय में ज्योतिरादित्य सिंधिया प्रदेश की कमान संभालेंगे और मुख्यमंत्री बनेंगे।

मुनि विहर्ष सागर महाराज ने कहा कि युद्ध कोई भी हो, चाहे महाभारत का हो या राजनीति का हो या युद्ध धर्म का हो, जीतने के लिए तीन चीजें जरूरी होती है। पहला गुण धर्म है, जो महाराज (सिंधिया) में साफ झलकता है। जब भी मौका मिलता है, वे दर्शन करने आते हैं। दूसरा गुण होता है साहस। वे यह गुण अपने कार्यों से दिखा चुके हैं। तीसरा गुण होता है धैर्य, जो उनके बारे में समझाने की जरूरत नहीं है। वे फास्ट मूवर हैं। नए-नए प्रयास करते हैं कि कैसे भी लोगों को, प्रदेश को आगे ले जाया जा सके। इसकी कोशिश करते हैं। लोग चर्चा करते हैं कि हमारे सिंधिया जी यहां के सीएम के रूप में दिख सकते हैं। पब्लिक की सेवा करना और एमपी को चमकाना, उनका लक्ष्य है। एमपी अन्य राज्यों से पीछे है और काफी आगे लेकर जाना है। यह काम महाराज ही कर सकते हैं।

वहीं जैन संत भविष्यवाणी पर अब राजनीति भी शुरु हो गई है। कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट कर लिखा कि ग्वालियर में आयोजित पंचकल्याणक गजरथ महोत्सव में श्रीमंत के अगले मुख्यमंत्री बनने की भविष्यवाणी हुई और श्रीमंत समर्थकों ने तालियाँ बजाकर नारेबाज़ी की,श्रीमंत ने मुस्कुराहट के साथ इस भविष्यवाणी पर अपनी रज़ामंदी दी। श्रीमंत की महत्वाकांक्षा सामने आती जा रही है। अब देखना होगा कि इस भविष्यवाणी के बाद शिवराज जी का अगला वार क्या होगा।




और भी पढ़ें :