योगी की राह पर शिवराज!, मध्यप्रदेश में भी लाउडस्पीकर पर कसेगी लगाम, एक्ट में होगा जल्द बदलाव

Author विकास सिंह| Last Updated: शनिवार, 30 अप्रैल 2022 (12:52 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। मिशन 2023 को फतह करने के लिए की योगी सरकार के नक्शे कदम पर आगे बढ़ रही की शिवराज सरकार 'बुलडोजर' के बाद अब योगी सरकार के एक और फैसले को प्रदेश में लागू करने की तैयारी में है। उत्तर प्रदेश की तर्ज पर अब मध्य प्रदेश में भी धार्मिक स्थलों में लगे लाउडस्पीकरों पर लगाम लगाई जाएगी।

अवैध पर लगाम लगाने के लिए मौजूदा कानून 'कोलाहल नियंत्रण अधिनियम' में संशोधन किया जाएगा। मौजूदा कानून में संशोधन के बाद धार्मिक स्थलों पर अवैध तरीके से लगे लाउडस्पीकरों को हटाया जाएगा। मंत्रालय से जुड़े सूत्र बताते हैं कि अगले सप्ताह लाउडस्पीकर को लेकर सरकार कोई बड़ा फैसला ले सकती है। गृह विभाग ने अवैध तरीके से लगे लाउडस्पीकर को हटाने की प्रक्रिया को लेकर ड्राफ्ट बनाने पर मंथन शुरु कर दिया है।



दरअसल मध्यप्रदेश में 2023 का विधानसभा चुनाव हिंदुत्व के मुद्दे पर लड़ने जा रही है और इसके लिए शिवराज सरकार पर योगी के नक्शे कदम पर आगे बढ़ रही है। उत्तर प्रदेश के ‘बुलडोजर बाबा’ की तर्ज पर मध्यप्रदेश में इन दिनों ‘बुलडोजर मामा’ खूब सर्खियों में है।

वहीं इन दिनों उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार धार्मिक स्थलों में लगे लाउडस्पीकरों की आवाज को नियंत्रित करने में जुटी हुई है। ठीक इसी तरह तरह अब मध्यप्रदेश में भी शिवराज सरकार धार्मिक स्थलों
के लाउडस्पीकरों की आवाज को नियंत्रित करने के लिए कदम उठाने जा रही है।


यूपी में लाउडस्पीकर पर कार्रवाई-उत्तर प्रदेश में धार्मिक स्थलों पर अवैध तरीके से लगे 45,774 लाउडस्पीकरों को हटा दिया गया है। उत्तर प्रदेश के एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार के मुताबिक 45,774 लाउडस्पीकर हटाने के साथ 58 हजार 861 लाउडस्पीकर की आवाज को कम किया गया है। प्रदेश में धार्मिक स्थलों से अनधिकृत लाउडस्पीकरों को हटाने और अन्य की आवाज को अनुमेय सीमा के भीतर निर्धारित करने के लिए राज्यव्यापी अभियान चलाया जा रहा है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक के दौरान लाउडस्पीकर हटाने के निर्देश दिए थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा था हर किसी को अपनी-अपनी धार्मिक आस्था के हिसाब से पूजा और इबादत करने की आजादी है, लेकिन लाउडस्पीकर की आवाज परिसर के बाहर नहीं जानी चाहिए ताकि दूसरे लोगों को कोई परेशानी न हो।



और भी पढ़ें :