अचानक सस्ते हुए पेट्रोल-डीजल से हुए नुकसान के विरोध में इंदौर में 25 मई को 2 घंटे बंद रहेंगे पेट्रोल पंप

Last Updated: मंगलवार, 24 मई 2022 (20:18 IST)
हमें फॉलो करें
इंदौर। पेट्रोल-डीजल पर केंद्र सरकार की उत्पाद शुल्क में कटौती से डीलरों को करीब 150 करोड़ रुपए के नुकसान का दावा करते हुए मध्यप्रदेश में एक कारोबारी संगठन ने मंगलवार को घोषणा की कि राज्य में बुधवार शाम 7 से रात 9 बजे तक आम ग्राहकों को ईंधन नहीं बेचा जाएगा। फेडरेशन ऑफ मध्यप्रदेश पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के उपाध्यक्ष पारस जैन ने यह जानकारी दी।

जैन ने कहा कि सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क घटाने से राज्य के डीलरों को ईंधन के पुराने स्टॉक पर लगभग 150 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है, क्योंकि इस माल पर ऊंची दरों पर पहले ही उत्पाद शुल्क चुकाया जा चुका है।

जैन ने मांग की कि सरकार को पेट्रोल-डीजल पर पुराने और नए उत्पाद शुल्क के अंतर की राशि डीलरों को लौटानी चाहिए और ईंधनों की बिक्री पर उन्हें मिलने वाले कमीशन में भी इजाफा किया जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि पेट्रोलियम डीलरों के प्रदर्शन के दौरान राज्य में करीब 4,900 ईंधन पंपों पर बुधवार शाम 7 से रात 9 बजे तक कारोबार ठप रखा जाएगा।
गौरतलब है कि ईंधनों की लगातार बढ़ती कीमतों से आम जनजीवन पर पड़ रहे असर को देखते हुए सरकार ने 21 मई को पेट्रोल एवं डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में क्रमशः 8 एवं 6 रुपए प्रति लीटर तक की कटौती की घोषणा की थी।



और भी पढ़ें :