कमेंट्री बॉक्स से संजय मांजरेकर ने फिर साधा रविंद्र जड़ेजा पर निशाना, इस बार नहीं लिया नाम

पुनः संशोधित शुक्रवार, 3 सितम्बर 2021 (12:12 IST)
कमेंटेटर और पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने एक बार फिर रविंद्र जड़ेजा पर निशाना साधा है। हालांकि जब पिछली बार जब उन्होंने यह किया था तो सोशल मीडिया पर उनकी काफी ट्रोलिंग हुई थी इस कारण इस बार उन्होंने रविंद्र जड़ेजा का नाम नहीं लिया।

गौरतलब है कि रविंद्र जड़ेजा को कल विराट कोहली ने लंच से पहले ही बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित कर लिया था। चेतेश्वुर पुजारा के आउट होने के बाद जड़ेजा क्रीज पर अजिंक्य रहाणे से पहले आए। हालांकि कोहली का यह दांव काम नहीं कर पाया और वह लंच के बाद 10 रन बनाकर आउट हो गए।

इसके तुरंत बाद कमेंट्री बॉक्स में बैठे संजय मांजरेकर ने कहा कि सैम करन और उनसे मिलते जुलते खिलाड़ी टेस्ट मैचों में लघुकालिक साबित होते हैं। संजय मांजरेकर का मतलब रविंद्र जड़ेजा से था क्योंकि सैम करन इंग्लैंड के बाएं हाथ के ऑलराउंडर है बस वह तेज गेंदबाजी करते हैं और जड़ेजा स्पिन गेंदबाजी।

संजय मांजरेकर बिना नाम लिए जड़ेजा पर हमला बोलना चाहते थे ताकि पिछली बार की तरह वह आलोचना का शिकार ना हो लेकिन सोशल मीडिया पर सबको पता चल गया कि उनका इशारा किस तरफ था। इसके कारण उनकी एक बार फिर ट्विटर पर किरकिरी हुई।


यही नहीं लंच के दौरान जड़ेजा को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजने के भी वह खिलाफ रहे। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि कप्तान कोहली रविंद्र जड़ेजा की बल्लेबाजी पर विदेशी पिचों पर कुछ ज्यादा ही भरोसा दिखा रहे हैं।

इसके अलावा उन्होंने यहां तक कहा कि जड़ेजा को अश्विन की जगह बरकरार रखा हुआ है और बल्लेबाजी क्रम में रहाणे से आगे क्रीज पर भेजा गया है। कोहली यह बताना चाहते हैं कि जड़ेजा की बल्लेबाजी अश्विन से बेहतर है।

2 साल पहले यह कहा था

विश्वकप 2019 में संजय मांजरेकर ने एक बार रविंद्र जड़ेजा के लिए आलोचना के शब्द कहे थे वह फैंस को अब तक याद है। उन्होंने कहा था कि रविंद्र जड़ेजा बीच बीच या फिर टुकड़े टुकड़े मेंं प्रदर्शन करते हैं। इसके बाद फैंस ने उनको आड़े हाथों लिया था और उन्हें सोशल मीडिया पर काफी ट्रोलिंग का सामना करना पड़ा था। उनका Bits and Pieces कमेंट तब काफी वायरल हो गया था।


74 वनडे मैचों में 1994 रन बनाने वाले मांजरेकर की टिप्पणी पर रविंद्र जड़ेजा ने कहा था कि 'इसके बावजूद मैंने आपकी तुलना में दोगुना मैच खेले और मैं अब भी खेल रहा हूं। जिन्होंने उपलब्धि हासिल की है, उन खिलाड़ियों का सम्मान करना सीखे। मैंने आपकी काफी बकवास सुन ली है।'

अब यह देखना होगा इस बार जड़ेजा मांजरेकर को सीधा जवाब देते हैं या फिर बिना नाम लिए ही मांजरेकर पर निशाना साधते हैं। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :