टेस्ट टीम से बाहर हुए पुजारा को मिली संजीवनी, काउंटी में जड़ा तीसरा शतक

पुनः संशोधित रविवार, 1 मई 2022 (17:01 IST)
हमें फॉलो करें
लंदन: भारतीय टीम से बाहर चल रहे सीनियर टेस्ट बल्लेबाज़ चेतेश्वर पुजारा इंग्लिश क्रिकेट में लगातार बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं। की टीम से खेलते हुए उन्होंने शुक्रवार को अपने तीसरे मैच में तीसरा शतक बनाया।

पुजारा ने अपनी पारी में 167 गेंदों का सामना करते हुए 107 रन बनाए। इस पारी में उन्होंने 13 चौके भी लगाए। पुजारा की इस पारी की मदद से उनकी टीम डरहम के ख़िलाफ़ एक बढ़िया बढ़त बनाने में क़ामयाब रही। डरहम की टीम पहली पारी में 223 के स्कोर पर आउट हो गई थी।

पिछले कुछ मैचों से भारत की तरफ़ से खेलते हुए पुजारा का फ़ॉर्म कुछ ख़ास नहीं था। हालांकि जब से वह काउंटी क्रिकेट खेलने गए हैं। वह लगातार बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं। इस चैंपियनशिप के दौरान उन्होंने पांच पारियों में तीन शतक लगाए हैं, जिसमें एक दोहरा शतक भी शामिल था।

वूस्टरशायर के हाथों ससेक्स की 34 रन की हार में उन्होंने पहली पारी में 109 रन बनाए, उसके बाद दूसरी पारी में उन्होंने 12 रन बनाए थे।जब भारत पिछले साल स्थगित किए गए पांचवें टेस्ट के लिए की यात्रा करेगा तो पुजारा के प्रदर्शन के आधार पर भारतीय टीम में शामिल किया जा सकता है। इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ़्रीका में श्रृंखला हारने के बाद पुजारा को भारतीय टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया था।
Cheteshwar Pujara

टेस्ट टीम और रणजी में किया था पुजारा ने निराश

पिछले कुछ समय से ख़राब प्रदर्शन के कारण पुजारा को श्रीलंका के ख़िलाफ़ सीरीज़ के लिए भारतीय टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया था। इसके अलावा बोर्ड की सालाना कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में भी उन्हें ग्रेड ए+ से ग्रेड बी में भेज दिया गया। उन्होंने अपना अंतिम टेस्ट शतक 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर बनाया था।

हाल ही में वह दक्षिण अफ़्रीका और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ लगातार टेस्ट में शून्य पर आउट हुए थे। ऑस्ट्रेलिया के 2018-19 दौरे के बाद पुजारा ने 27.38 के औसत से 48 परियों में सिर्फ़ 1287 रन बनाए हैं, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 91 रन रहा। वहीं इस दौरान उनकी करियर औसत भी गिरकर 47 से 44.25 हो गई। दो साल बाद रणजी ट्रॉफ़ी खेल रहे पुजारा ने इस साल पांच परियों में दो अर्धशतक की मदद से 191 रन बनाए।



और भी पढ़ें :