मंकी गेट के 3 साल बाद साइमंड्स ने भज्जी को लगा लिया था गले, खेले थे एक ही IPL टीम से

Last Updated: सोमवार, 16 मई 2022 (16:28 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली:‘मंकीगेट’ प्रकरण में को क्रिकेट आस्ट्रेलिया से उस तरह का समर्थन नहीं मिला जैसा कि कोई खिलाड़ी उम्मीद करता है। इस घटना ने साइमंड्स को पूरी तरह से बदल कर रख दिया।‘मंकीगेट’ क्रिकेट के सबसे विवादित प्रकरण में से एक है जिसमें ने साइमंड्स ने हरभजन पर नस्लवादी टिप्पणी करने का आरोप लगाया था।

भारतीय टीम के 2007-08 में आस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी में दूसरे टेस्ट में साइमंड्स जब बल्लेबाजी कर रहे थे तब हरभजन और उनके बीच नोक-झोंक हो गई थी। साइमंड्स ने बाद आरोप लगाया था कि हरभजन ने उन्हें ‘मंकी’ (बंदर) कहा था और इसके लिए भारतीय खिलाड़ी पर तीन मैचों का प्रतिबंध लगा था।आईसीसी ने हालांकि बाद में कमिश्नर जस्टिस जॉन हेंसन के सामने की अपील पर सुनवाई के बाद इस प्रतिबंध को हटा दिया था और उन्हें मैच फीस की आधी रकम जुर्माना के तौर पर भरने के लिए कहा था।

इस घटना के कारण साइमंड्स को भारतीय प्रशंसकों से उस तरह का सम्मान नहीं मिला जैसा कि शेन वार्न, रिकी पोंटिंग, एडम गिलक्रिस्ट, मैथ्यू हेडन और ब्रेट ली जैसे क्रिकेटरों को मिला था।

इसके लिए हालांकि ना तो साइमंड्स को दोषी माना जा सकता है ना ही प्रशंसकों को। साइमंड्स सम्मानित आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की उस ‘एलीट’ वर्ग में शामिल होने के योग्य थे और आईपीएल में तीन साल तक डेक्कन चार्जर्स के साथ रहने के बाद जब वह मुंबई इंडियन्स के साथ जुड़े तो टीम हरभजन की मौजूदगी में भी वह सहज रहे।

मुंबई इंडियन्स के उस टीम के एक सदस्य ने कहा, ‘‘ जबकि हरभजन और साइमंड्स ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और आईपीएल में एक-दूसरे के खिलाफ खेले लेकिन सभी को संदेह था कि वे अपने बीच इस तरह के इतिहास के साथ कैसे तालमेल बिठाएंगे।’’उन्होंने कहा, ‘‘जब वह मुंबई के शिविर में आने वाले थे तो सभी ने सोचा कि हमें उसे कैसे संभालना होगा, लेकिन वह शायद इस विवाद को पीछे छोड़ चुके थे।

उन्होंने कहा कि इस दौरान हरभजन और साइमंड्स ने एक दूसरे को गले भी लगाया था।उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि हम किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच के लिए मोहाली में थे। हमारे पास एक निजी पार्टी के लिए निमंत्रण था और यह एक यादगार रात थी। हर कोई जोश में था और अचानक हरभजन और साइमंड्स दोनों एक-दूसरे को कसकर गले लगाते हुए भावुक नजर आए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ वह कमाल का नजारा था और दोनों एक दूसरे से "सॉरी" कहते हुए इतने भावुक हो गये थे कि लग रहा था कि किसी बोझ से छुटकारा पाना चाहते हैं।’’हरभजन और साइमंड्स को इसके बाद भी कई बार एक दूसरे के साथ खुशी से मिलते हुए देखा गया था। (भाषा)



और भी पढ़ें :