क्यों सस्ता हो रहा है सोना, क्या यह है गोल्ड खरीदने का सही समय...

पुनः संशोधित मंगलवार, 10 अगस्त 2021 (12:19 IST)
मुंबई। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में गिरावट के चलते देश की आर्थिक राजधानी में जेवराती सोने 1028 रुपए और चांदी में 2541 रुपए की गिरावट दर्ज की गई। आम लोगों की धारणा और बाजार में सोने के गिरते दामों को देखते हुए हमने विशेषज्ञों से यह जानने का प्रयास किया कि सोना चांदी क्यों सस्ता हो रहा है? क्या यह गोल्ड खरीदने का सही समय है?


मुंबई में सराफा बाजार में सोमवार को सोना 46753 और चांदी 64186 पर बंद हुआ। बीते 40 दिनों में यह सोने के सबसे कम दाम है जबकि चांदी में भी पिछले 126 दिनों की यह सबसे कम कीमत है।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर की मजबूती, शेयर बाजार में तेजी और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गिरावट के सोने के दाम लगातार गिर रहे हैं। आने वाले दिनों में सोने और चांदी के दामों में और भी गिरावट की संभावना है। बहरहाल बाजार की गिरावट से आम लोगों की सालों से चली आ रही यह धारणा भी मजबूत हुई है कि श्रावण मास में सोना सस्ता रहता है।
Gold
आमतौर पर बारिश के 4 माह सराफा बाजार में रौनक अन्य दिनों की अपेक्षा कम रहती है। इन दिनों आभूषण खरीदने वाले बाजार से दूरी बनाकर रखते हैं। वे इसके लिए त्योहारी सीजन और वैवाहिक का इंतजार करते हैं।

कमोडिटी बाजार से जुड़े योगेश बागौरा के अनुसार, कमोडिटी बाजार में 1 जुलाई को चांदी 69,482 थी जबकि आज यह 63120 पर है। इस तरह 40 दिनों में इसमें अब तक 6300 से अधिक गिरावट दर्ज की गई। इसी तरह MCX पर सोना में भी गिरावट दिख रही है।


बागौरा ने बताया कि अमेरिका के पैरोल और जॉब की डाटा रिपोर्ट से वहां की अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत दिखाई दे रहे हैं। इस वजह से अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में सोने चांदी की कीमतों में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि दोनों धातुओं में आने वाले समय में गिरावट जारी रहेगी। चांदी गिरकर 58000 से 60000 तक पहुंच सकती है वही सोना 45000 से 45500 की रेंज में बना रहेगा।

Silver and Gold" width="740" />
सराफा बाजार विशेषज्ञ जीतू सोनी ने बताया कि आने वाले समय में सोना और टूटने की संभावना है। शेयर बाजार में निवेशकों के बढ़ते रुझान और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने के भाव गिरने से यहां भी मंदी का दौर जारी रहेगा। MCX पर सोना आज 46000 रुपए के करीब चल रहा है। कुछ ही दिनों में यहा 43000-44000 रुपए तक पहुंच सकता है।
बहरहाल कहा जा सकता है कि अगर कोई व्यक्ति शौकिया तौर पर गहने खरीदना चाहता है या इसमें निवेश का इच्छुक है तो यह समय उसके लिए बेहतर है।



और भी पढ़ें :