देश में किराना दुकानों को डिजिटल स्टोर्स में बदलना वक्त की जरूरत है : ईशा एवं आकाश अंबानी

Last Updated: बुधवार, 15 दिसंबर 2021 (12:23 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स के डायरेक्टर ईशा अंबानी और आकाश अंबानी ने छोटे व्यवसायों को देश की रीढ़ बताया। ईशा ने कहा कि महामारी ने बिजनेस करने के तरीकों को बदल दिया है। अब वक्त आ गया है कि मोहल्ले की किराना दुकानों को डिजिटल स्टोर्स में बदला जाए। आकाश अंबानी ने रिलायंस से जुड़े 30 हजार रिटेल विक्रेताओं का जिक्र करते हुए कहा कि रिटेल सेक्टर में ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह के स्टोर्स के लिए स्थान हैं। ईशा और आकाश अंबानी फेसबुक के कार्यक्रम 'फ्यूल फॉर इंडिया 2021' कार्यक्रम में वर्चुअली भाग ले रहे थे।

चीफ बिजनेस ऑफिसर, मेटा (फेसबुक) के एक सवाल के जवाब में ईशा अंबानी ने कहा कि हमारे पिता मुकेश अंबानी का विजन था कि लाखों छोटे खुदरा विक्रेताओं को के माध्यम से डिजिटली सक्षम बनाया जाए। हम उनके विजन को साकार करने के एक कदम और करीब आ गए हैं। आकाश और मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से बहुत महत्वपूर्ण हैं।
जियोमार्ट और व्हॉट्सऐप की पार्टनरशिप पर टिप्पणी करते हुए आकाश अंबानी ने कहा कि व्हॉट्सएप के माध्यम से जियोमार्ट पर डिजिटल खरीदारी अब एक संदेश भेजने जैसा है। यह वास्तव में उपभोक्ताओं के लिए डिजिटल खरीदारी में एक क्रांति है।

मार्ने ने जियो के मजबूत ग्राहक आधार और किफायती सेवाओं की प्रशंसा करते हुए सवाल पूछा कि व्हाट्सएप के माध्यम से जियो मोबाइल रिचार्ज कैसे काम कर रहा है? सवाल के जवाब में आकाश अंबानी ने कहा कि व्हॉट्सऐप पर जियो को रिचार्ज करना बेहद सरल है और यह 1-2 चरणों में ही पूरा हो जाता है। इसने जियो उपभोक्ताओं के जीवन को आसान बना दिया है। ईशा ने वृद्ध नागरिकों का हवाला देते हुए कहा कि वृद्ध नागरिकों के लिए कभी-कभी बाहर जाना मुश्किल हो सकता है, ऐसे में व्हॉट्सएप के माध्यम से जियो रिचार्ज बेहद सुविधाजनक साबित हो रहा है।
'फ्यूल फॉर इंडिया 2021' दरअसल साक्षात्कारों की एक श्रृंखला है जिसमें फेसबुक के अधिकारी देश की तमाम जानी-मानी हस्तियों के इंटरव्यू कर रहे हैं।



और भी पढ़ें :