0

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन की प्रेरणा थीं ये दो महिलाएं

सोमवार,जुलाई 26, 2021
0
1
डॉक्टर अब्दुल कलाम को प्रोजेक्ट डायरेक्टर के रूप में भारत का पहला स्वदेशी उपग्रह (एस.एल.वी. तृतीय) प्रक्षेपास्त्र बनाने का श्रेय हासिल है।
1
2
कामयाबी के शिखर तक पहुंचने की आपने यूं तो हजारों कहानियां पढ़ी होंगी लेकिन यह एक कहानी सबसे अलग है, जो पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की है। 27 जुलाई 2015 को महान व्यक्तित्व कलाम हमसे बिछड़ गए हमेशा हमेशा के लिए लेकिन छोड़ गए ऐसी मिसाल जो लाखों ...
2
3
आज कारगिल विजय दिवस है। सन् 1999 में आज ही के दिन भारत के वीर सपूतों ने कारगिल की चोटियों से पाकिस्तानी फौज को खदेड़
3
4
उनके इस प्यार और आशीर्वाद को सेलिब्रेट करने के लिए पैरेंट्स डे मनाया जाता है। आज नेशनल पैरेंट्स डे है। नेशनल पैरेंट्स डे हर साल जुलाई महीने के चौथे सप्ताह में मनाया जाता है। इस साल राष्ट्रीय माता-पिता दिवस यानी पैरेंट्स डे 25 जुलाई को मनाया जा रहा ...
4
4
5
मुंशी प्रेमचंद पर निबंध- मुंशी प्रेमचंद भारत के उपन्यास सम्राट माने जाते हैं जिनके युग का विस्तार सन् 1880 से 1936 तक है। यह कालखंड भारत के इतिहास में बहुत महत्व का है।
5
6
लोकमान्य तिलक की 165वीं जयंती पर पढ़ें प्रेरक प्रसंग
6
7
लोकप्रिय स्वतंत्रता सेनानी एवं भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महानायक चंद्रशेखर आजाद का जन्म 23 जुलाई, 1906 को मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के भाबरा नामक स्थान पर हुआ।
7
8
भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महानायक एवं लोकप्रिय स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद का जन्म 23 जुलाई, 1906 को मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के भाबरा नामक स्थान पर हुआ।
8
8
9
'स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूंगा के प्रणेता बाल गंगाधर तिलक हिन्दुस्तान के एक प्रमुख नेता, समाज सुधारक और स्वतंत्रता सेनानी थे।
9
10
स्वराज को लेकर तिलक का वह कथन आज भी सारे देश में ख्यात है। आइए जानते हैं हमारे प्रिय नेता लोकमान्य गंगाधर तिलक के 10 अमूल्य विचार-
10
11
हिन्दी बाल कहानियों का उदय भारतेंदु युग से माना जाता है। इस काल की अधिकांश कहानियां अनूदित हैं। इसके लिए वे संस्कृत की कहानियों के लिए आभारी हैं। सर्वप्रथम शिवप्रसाद सितारे हिन्द ने कुछ मौलिक कहानियां लिखीं। इनमें ‘राजा भोज का सपना’ ‘बच्चों का इनाम’ ...
11
12

Essay on Eid : ईद पर निबंध

बुधवार,जुलाई 21, 2021
इस्लामिक कैलेंडर में दो बार ईद मनाई जाती है। ईद उल फित्र और ईद उल अज़हा। इस्लाम में रमज़ान ईद का दिन बहुत ही खुशी का दिन माना गया है।
12
13
आजादी की लड़ाई के अगदूत कहे जाने वाले मंगल पांडे का जन्म बलिया जिले के नगवा गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम दिवाकर पांडे एवं माता का नाम श्रीमती अभय रानी था। उनका जन्म एक सामान्य ब्राह्मण परिवार हुआ था। 1849 में जब वे 22 साल के थे, तभी से वे ...
13
14
संसार में मछलियों की लाखों प्रजातियां हैं और इतनी ही लुप्त हो गई हैं। समुद्र में तो ऐसी विचित्र किस्म की मछलियां हैं कि जिन्हें देख और जिनके बारे में सुनकर आप हैरत में पड़ जाएंगे और सोचेंगे कि कहीं यह दूसरे ग्रह की मछलियां तो नहीं हैं? तो आओ जानते ...
14
15
नेल्‍सन मंडेला जिनके विचारों की तुलना, जिनके जीवन की तुलना, जिनके व्‍य‍क्तित्‍व की तुलना भारत के महात्‍मा गांधी से की जाती हैं। उनका जन्‍म 18 जुलाई 1918 को दक्षिण अफ्रीका के म्‍वेजो में हुआ था। नेल्‍सन मंडेला ने बचपन से ही अपने जीवन में बहुत संघर्ष ...
15
16
सुर्रा सत्तू सुर्रा सत्तू, सुर्रम सूडा ताल, नहीं जमा इंदौर तो दद्दू, पहुंच गए भोपाल।
16
17
ताधिक ताधिक ता ता धिन्ना। हाथी दादा चूसो गन्ना। फिर थोड़े से केले खाना। केले खाकर मेले जाना।
17
18
दुनियाभर में बढ़ती और घटती आबादी के लिए अलग-अलग चाइल्ड पॉलिसी अपनाई जा रही है। आने वाले समय में कई देशों में आबादी तेजी से बढ़ेगी तो कहीं तेजी से घटेगी। जनसंख्या वृद्धि को लेकर लैंसेट की एक जनरल रिपोर्ट में भी आने वाले समय में घटती-बढ़ती आबादी को लेकर ...
18
19
विश्व जनसंख्या दिवस 2021: हर साल 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है। किसी भी देश की जनसंख्या के आकार का प्रभाव देश के विकास की गति पर अवश्य पड़ता है। देश की जनसंख्या जितनी अधिक होती है विकास पर उतना अधिक असर पड़ता है। ...
19