बाल कविता : मां! मुझसे कुछ बातें कर लो

कृष्ण वल्लभ पौराणिक|
मां! मुझसे कुछ बातें कर लो
जब से आया विद्यालय से
सब्जी काट रही हो तब से
मेरे मन में क्या चलता है
नहीं पूछती हो तुम मुझसे ...1
दिनभर चौके में रहती हो
रोटी-सब्जी में खपती हो
मुझको बहुत बुरा लगता है
क्यों तुम पास नहीं रखती हो ...2
 
हंसकर देखा केवल तुमने
बानें ना की बिलकुल तुमने
भींचा नहीं बाथ में मुझको
और प्यार भी किया न तुमने ...3
 
पापा बात नहीं करते हैं
जब भी वे घर में रहते हैं
अखबार लिए कुर्सी बैठे
सदैव गुस्सा ही करते हैं ...4
दादाजी है मुझे चाहते
और प्यार से पास बिठाते
पर वे अब इतने बूढ़े हैं
कहानियां अब नहीं सुनाते ...5



और भी पढ़ें :