10.75 करोड़ के शार्दुल आखिरकार बने दिल्ली के लॉर्ड, किया गेंद से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

पुनः संशोधित मंगलवार, 17 मई 2022 (15:09 IST)
हमें फॉलो करें
के लिए का प्रदर्शन बहुत ही खराब जा रहा था। लेकिन लीग मैच खत्म होने के अंतिम हफ्ते में उन्होंने अपनी छाप छोड़ ही दी।पंजाब से होने वाला लो स्कोरिंग मैच अगर दिल्ली हार जाती तो प्लेऑफ में जाने की उम्मीद बहुत कम रह जाती।

पंजाब से पहले शार्दुल के खाते में 9 विकेट थे और मैच के बाद 13 विकेट हैं। उन्होंने ऐसा क्या किया कि महंगे साबित होने वाले ठाकुर अचानक से लॉर्ड शार्दुल की तरह दिखने लगे।

दरअसल तेज गेंदबाज शारदुल ठाकुर ने के खिलाफ सफलता का श्रेय गेंदबाजी में मिश्रण करने के अपने फैसले को दिया, जिससे उनकी टीम मैच को 17 रन से जीतकर प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई करने की दौड़ में बनी हुई है।

अक्षर पटेल (14 रन पर दो विकेट और कुलदीप यादव (14 रन पर दो विकेट) की स्पिन गेंदबाजों की जोड़ी ने बीच के ओवरों में दिल्ली लिए शानदार गेंदबाजी की जबकि शारदुल ने आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी (36 रन पर चार विकेट) कर दिल्ली को लगातार दूसरी जीत दिलायी। इस जीत से टीम 13 मैचों में 14 अंक के साथ तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गयी।

पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने के बाद मिशेल मार्श की 48 गेंद में 63 रन की पारी के दम पर दिल्ली ने सात विकेट पर 159 रन बनाने के बाद पंजाब की टीम को नौ विकेट पर 142 रन पर रोक दिया।
शारदुल ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ मैदान के दोनों ओर की बाउंड्री की दूरी में काफी अंतर था। ओस और उमस के कारण परिस्थितियां चुनौतीपूर्ण थी। मुझे लगा कि बल्लेबाज बड़े बाउंड्री की ओर भी छक्का लगा सकते हैं ऐसे में मैंने गेंदबाजी में मिश्रण कर बल्लेबाजों को चकमा देने की योजना बनायी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने गेंदबाजी में ‘नकलबॉल’, बायें हाथ के बल्लेबाजों के लिए ‘ऑफ कटर’, ‘सीम’ ‘बाउंसर’ और ‘हार्ड लेंथ’ का इस्तेमाल किया।’’

शारदुल ने इस मौके पर टीम के अन्य गेंदबाजों की भी तारीफ की और कहा कि लगातार विकेट गिरने के कारण पंजाब की टीम लक्ष्य का पीछा करते समय कभी भी मैच में दबदबा नहीं बना सकी।

उन्होंने कहा, ‘‘ जब हम ने गेंदबाजी शुरू की थी तब ओस नहीं था लेकिन 12वें ओवर के बाद ओस का असर शुरू हो गया, अगर उनकी टीम शुरुआत में विकेट नहीं गंवाती तो आखिरी के आठ ओवरों का फायदा उठा सकती थी।’’ शारदुल ने कहा, ‘‘ हमारी गेंदबाजी इकाई को श्रेय दिया जाना चाहिये। हम लगातार अंतराल पर विकेट लेते रहे जिससे उनके लिए लक्ष्य का पीछा करना मुश्किल हो गया।’’
10.75 करोड़ में दिल्ली ने खरीदा था शार्दुल ठाकुर को

अपने ऑलराउंड प्रदर्शन के कारण दिल्ली ने मेगा नीलामी में शार्दुल ठाकुर को 10.75 करोड़ रुपए में खरीदा था। हालांकि वह बल्ले से तो कुछ खास कर नहीं पाए उल्टा गेंदबाजी में भी महंगे साबित हो गए।उन्होंने अब तक 45.2 ओवरों में 441 रन लुटाकर कुल 13 विकेट लिए हैं।वहीं बल्लेबाजी में वह 13 मैचों में 16 की औसत से 16 रन बना पाए हैं।



और भी पढ़ें :