IPL 2021 फाइनल के बाद ओमान के लिए रवाना होंगे शाकिब. टी-20 विश्वकप के लिए जुड़ेगे बांग्लादेश टीम में

पुनः संशोधित शुक्रवार, 15 अक्टूबर 2021 (16:07 IST)
दुबई: (केकेआर) के स्टार ऑलराउंडर आज यहां चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के खिलाफ आईपीएल फाइनल खेलने के बाद आज ओमान के लिए रवाना हो जाएंगे, जहां वह आईसीसी टी-20 विश्व कप के क्वालीफाई चरण के लिए बंगलादेश टीम के साथ जुड़ेंगे।

बंगलादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के एक अधिकारी ने गुरुवार को इसकी पुष्टि की है। इससे पहले बीसीबी ने जोर देकर कहा था कि वह दूसरे क्वालीफायर मुकाबले के बाद शाकिब के आईपीएल फाइनल में भाग लेने के बारे में अंतिम फैसला करेगा।

बीसीबी के क्रिकेट संचालन अधिकारी ने एक बयान में कहा, “ योजना यह है कि आईपीएल फाइनल के तुरंत बाद शाकिब बंगलादेश टीम में शामिल हो जाएंगे, क्योंकि 17 अक्टूबर को स्कॉटलैंड के खिलाफ हमारा महत्वपूर्ण क्वालीफाइंग मैच है। ”

शाकिब को शॉर्ट रन-अप का फायदा : सलाहुद्दीन

बंगलादेश के लेफ्ट आर्म स्पिनर शाकिब अल हसन के मेंटर मोहम्मद सलाहुद्दीन का मानना है कि शाकिब यूएई में मौजूदा आईपीएल 2021 सीजन में शॉर्ट रन-अप के साथ गेंदबाजी का लाभ उठा रहे हैं, क्योंकि इससे उन्हें अधिक नियंत्रण मिला है।

सलाहुद्दीन ने गुरुवार को कहा कि शाकिब ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछली घरेलू श्रृंखला में शॉर्ट रन-अप का विकल्प चुना था और वह अब आईपीएल में भी इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने एक बयान में कहा, “ इस शॉर्ट रन-अप के साथ हवा में गेंद में हलचल की संभावना बहुत बढ़ गई है, जब गेंद बल्लेबाज तक पहुंचती है तो इसकी सीम पॉजिशन एक दम सही होती है, जो बहुत महत्वपूर्ण है और उनकी सीम पॉजिशन अब बहुत बेहतर है। यही कारण है कि उन्होंने कम रन-अप का विकल्प चुना और यह कोई नई बात नहीं है, क्योंकि वह आखिरी सीरीज से इसका इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन शायद उन्होंने आईपीएल के दौरान इसे पूरी तरह से अनुकूलित किया है। शॉर्ट रन-अप शाकिब को बेहतर तरीके से संतुलित बना रहा है। ”

मेंटर ने कहा, “ वह अपनी आर्म गेंद का भी बेहतर इस्तेमाल कर रहे हैं और अपने पैरों से काफी ताकत हासिल कर रहे हैं, जिसका इस्तेमाल वह अपनी गेंदबाजी में कर सकते हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात हाल के दिनों में उनका गेंद को अच्छे तरीके से ड्रिफ्ट (कस के पकड़ना) करना है, लेकिन मुख्य फोकस उनकी गेंद के शेप पर है। उनके लिए ड्रिफ्ट बहुत महत्वपूर्ण है और इसमें सुधार हुआ है। उनकी गेंद की गति निश्चित रूप से अब बेहतर है जो पहले से कम हो गई थी। कम रन-अप के कारण उनकी गेंद भी काफी स्पिन होने लगी है। ”

उल्लेखनीय है कि सलाहुद्दीन, जो शाकिब को उनके बचपन के दिनों से जानते हैं, शाकिब पर आईसीसी प्रतिबंध के दौरान उनके लिए ताकत का स्तंभ रहे थे।(वार्ता)



और भी पढ़ें :