कतर में खुले में रोमांस करने पर 7 साल तक की सजा, अलग-अलग सरनेम होने पर नहीं मिलेगा होटल रूम

पुनः संशोधित शुक्रवार, 24 जून 2022 (12:50 IST)
हमें फॉलो करें
Photo - Twitter
दोहा, कतर। अरब देश हमेशा से दुनिया के शीर्ष मनावाधिकार संरक्षण संगठनों को अपनी ओर आकर्षित करते आए हैं। वजह है यहां के नागरिकों पर लगाई जाने वाली पाबंदियां, जो कई बार व्यक्ति की निजी स्वतंत्रता के हनन का रूप ले लेती हैं। इसी बीच अरब देश कतर से खबर आई है कि देश में 2022 के दूसरे भाग में आयोजित किए जाने वाले फीफा वर्ल्ड कप के दौरान वन नाईट स्टैंड और पब्लिक में रोमांस करना अपराध माना जाएगा।

गौरतलब है कि इस साल खाड़ी देश कतर में फुटबॉल के फीफा वर्ल्ड कप का आयोजन होने जा रहा है, जिसका हिस्सा बनने के लिए बड़ी संख्या में दुनियाभर के फुटबॉल फैंस कतर पहुंचेंगे। इन सभी फुटबॉल फैंस को मैचों के दौरान कई चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है।

यूके के डेली स्टार की रिपोर्ट के अनुसार, कतर से फीफा वर्ल्ड कप में शिरकत करने वाले मेहमानों के लिए सख्त निर्देश जारी किए हैं। कतर पुलिस ने कहा है कि गैर पति-पत्नी कपल को शारीरिक संबंध बनाने पर 7 साल तक की जेल हो सकती है। इसके अलावा भी कतर की रूढ़िवादी सरकार ने ऐसे कई निर्देश जाए किए हैं, जिनका पालन करना पश्चिमी देशों के पर्यटकों के लिए मुश्किल भरा हो सकता है।

शराब पीना, पार्टी करना भी बैन:
अन्य खाड़ी
देशों की तरह कतर में भी सब कुछ इस्लामी शरिया कानून के मुताबिक होता है, जिसके अनुसार बिना विवाह के किसी के साथ शारीरिक संबंध बनाना अपराध है। दूसरी ओर कतर LGBTQ समाज का भी शुरु से विरोधी
रहा है, इसलिए समलैंगिकों (Bisexuals) पर भी यहां कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इन दोनों श्रेणियों में आने वाले विदेशी नागरिकों को भी दंडित किया जाएगा। गैर-विवाहित कपल का आपसी सहमति से सेक्स करना भी अपराध की श्रेणी में गिना जाएगा।

नए निर्देशों के तहत कतर में किसी फुटबॉल मैच के बाद शराब पीना और पार्टी करना भी प्रतिबंधित रहेगा। साथ ही होटल में एक साथ कमरा लेने पर उन्हें साबित करना होगा की वे पति-पत्नी हैं।

'खुले में रोमांस हमारी संस्कृति नहीं'
21 नवंबर 2022 से शुरू होने फीफा वर्ल्ड कप के मुख्य प्रबंधन अधिकारी का कहना है कि खुले में रोमांस हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं है। मेहमानों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है, इसलिए हम अपने यहां आने वाले विदेशी मेहमानों को भी इसकी अनुमति नहीं दे सकते।




और भी पढ़ें :