बाइडन ने सुरक्षा परिषद में भारत की स्थाई सदस्यता, एनएसजी में प्रवेश के प्रति दोहराया समर्थन

पुनः संशोधित रविवार, 26 सितम्बर 2021 (00:06 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति ने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी पहली द्विपक्षीय प्रत्यक्ष बैठक के दौरान में भारत की स्थाई सदस्यता और परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में नई दिल्ली के प्रवेश के प्रति वॉशिंगटन का समर्थन दोहराया है।
व्हाइट हाउस में दोनों नेताओं की बैठक के बाद शुक्रवार को जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि राष्ट्रपति बाइडन ने प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपनी बैठक के दौरान अगस्त 2021 में सुरक्षा परिषद की नई दिल्ली द्वारा की गई अध्यक्षता के दौरान भारत के मजबूत नेतृत्व की सराहना की।

इसमें कहा गया, इस परिप्रेक्ष्य में, राष्ट्रपति बाइडन ने सुधारों से युक्त संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थाई सदस्यता तथा उन अन्य देशों के लिए अमेरिका का समर्थन दोहराया, जो बहुपक्षीय सहयोग में महत्वपूर्ण भूमिका तथा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थाई सीट की आकांक्षा रखते हैं।

संयुक्त बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपनी बैठक के दौरान राष्ट्रपति बाइडन ने परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में भारत के प्रवेश के प्रति भी अमेरिका का समर्थन दोहराया।(भाषा)



और भी पढ़ें :