एक और युद्ध की आशंका, चीन ने ताइवान की सीमा में भेजे 29 लड़ाकू विमान

पुनः संशोधित शुक्रवार, 24 जून 2022 (18:00 IST)
हमें फॉलो करें
Photo - Twitter
ताइपेई। ताइवान और चीन के बीच हालात नाजुक होते जा रहे हैं। ताइवान रक्षा मंत्रालय के अनुसार, 29 चीनी फाइटर विमानों ने ताइवान के वायु रक्षा क्षेत्र में प्रवेश किया। इन 29 विमानों में पनडुब्बी रोधी विमान, हवा में ईंधन भरने वाले विमान, एयर-टू-एयर मिसाइलों से लैस विमानों का शामिल होना इस बात का संकेत हो सकता है कि चीन ताइवान पर धावा बोलने की फिराक में है। इस घटना के बाद ताइवान की वायुसेना चीन की हर हरकत पर कड़ी नजर रख रही है।


ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि इस साल की शुरुआत के बाद ये देश के वायु क्षेत्र में प्रवेश करने वाले चीनी फाइटर जेट्स की तीसरी बड़ी संख्या है। पिछले एक महीने पहले भी चीन ने 30 लड़ाकू विमानों का बड़ा ताइवान के वायु क्षेत्र में भेजा था।

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि जवाबी कार्रवाई के तहत चीनी जेट्स को चेतावनी देते हुए खदेड़ दिया गया, जिसके बाद रेडियो पर चेतावनी जारी की गई है और बॉर्डर पर युद्धस्तरीय तैयारियों के लिए अत्याधुनिक वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली तैनात की गई है।

चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी शुरू से ताइवान को अपने क्षेत्र के हिस्से के रूप में देखती आई है। दोनों देशों ने एक दूसरे पर कई प्रतिबंध लगाकर रखे हैं। चीनी रक्षा मंत्रालय अपने बयानों में कई बार ताइवान पर कब्जा करने के लिए सैन्य बल के इस्तेमाल से इंकार कर चुका है, लेकिन कुछ वर्षों से ताइवान के वायु रक्षा क्षेत्र में लगातार युद्धक विमानों भेजकर ताइवान पर दबाव बनाने की कोशिश जरूर करता रहा है।

अमेरिका, यूके सहित कई पश्चिमी देशों के रक्षा विशेषज्ञों ने चीन ताइवान के बीच के हालातों पर चिंता जाहिर करते हुए इसे एक और युद्ध का अंदेशा बताया है।




और भी पढ़ें :