अशरफ गनी का दर्द, बोले- अफगास्तिान का राष्ट्रपति होना इस धरती की सबसे खराब नौकरी

पुनः संशोधित शनिवार, 24 जुलाई 2021 (17:28 IST)
के राष्ट्रपति डॉ. अशरफ गनी अहमदजई ने अक्टूबर 2017 में एक इंटरव्यू में कहा था कि अफगानिस्तान का राष्ट्रपति होना इस धरती की सबसे खराब नौकरी है।
यह कहते समय शायद उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं था कि अफगानिस्तान के हालात इतने भयानक हो जाएंगे। 72 साल के डॉ. गनी पिछले वर्ष ही अफगानिस्तान के दूसरी बार राष्ट्रपति चुने गए हैं।
अमेरिकी खूफिया रिपोर्ट के मुताबिक पूरे अफगानिस्तान पर तालिबानियों के कब्जे की आशंका है। अफगानिस्तान फिर से खूनी संघर्ष की ओर बढ़ रहा है। दो दशकों बाद अमेरिकी सेनाएं अफगानिस्तान छोड़कर वापस अपने देश लौट रही हैं।

सितंबर तक सारे सैनिक वापस अमेरिका लौट जाएंगे। मीडिया खबरों के मुताबिक आधे अफगानिस्तान पर कब्जा कर चुका है। तालिबानियों की यह शर्त है कि जब तक डॉ. गनी राष्ट्रपति रहेंगे, शांति वार्ता शुरू नहीं हो सकती है।



और भी पढ़ें :