रेशम बाई बनीं देवास की ‘ड्राइवर दादी’,आखि‍र ऐसा क्‍या किया कि सीएम कर दिया ट्वीट और सोशल मीडि‍या में हो रही चर्चा

Resham bai
Last Updated: गुरुवार, 23 सितम्बर 2021 (15:32 IST)
इस वक्‍त रेशम बाई सोशल मीडि‍या में एक ‘संसेशन’ हैं। उनकी उम्र है महज 90 साल। महज इसलिए क्‍योंकि वो जो काम कर रहीं हैं, वो लोग 18 साल की बालिग उम्र में करते हैं। शायद इसीलिए टीवी और सोशल मीडि‍या में उनकी चर्चा और तारीफ हो रही है। यहां तक मप्र के सीएम शि‍वराज सिंह चौहान ने भी उनके लिए ट्व‍ीट कर डाला।

दरअसल, मध्य प्रदेश के देवास की रेशम बाई तंवर 90 वर्ष की हैं और इस उम्र में वे कार चलना सीख रहीं हैं। उनके कार चलाने के वीडियो पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर प्रेरणास्पद बताया है। जब से यह वीडियो वायरल हुआ है, तब से सिर्फ रेशमबाई की ही चर्चा है।

कौन हैं रेशम बाई?
रेशम बाई एक जिंदादिल महिला हैं, जानकारी के मुताबि‍क वे हमेशा एक्‍ट‍िव रहती हैं।

रेशम बाई देवास के पास बिलावली गांव में रहती हैं। संयुक्त परिवार में रहने वाली रेशम बाई के बेटे- बहू पोते सहित भरा पूरा परिवार है। जब घर मे सभी कार चलाते थे तो उन्‍हें देखकर रेशम बाई के मन में भी कार चलाने का ख्याल आया। फि‍र एक दिन उन्‍होंने अपने बेटे के सामने अपनी इच्‍छा जाहिर की। उन्‍होंने बेटे से कहा कि वे कार चलाना सीखना चाहती हैं।

बेटा ये सुनकर पहले तो पूरी तरह से हिचकिचाया और हैरत में पड गया, लेकिन मां ने गंभीरता से अपनी बात कही तो उनके जज़्बे के सामने बेटा भी हार गया। बस फि‍र क्‍या था, कार चलाना सीखने का सिलसिला शुरू हुआ और कुछ ही दिन में रेशम बाई अच्छे से कार चलाना सीख गईं। उनके कार चलाने के वीडियो पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह ने ट्वीट किया और कहा कि दादी मां ने हम सबको प्रेरणा दी है। उम्र का कोई बंधन नहीं होता। उम्र चाहे कितनी भी हो जीवन जीने का जज़्बा होना चाहिए।

अब सोशल मीडि‍या में उन्‍हें ड्राइवर दादी के नाम से पुकारा जा रहा है। इस तरह देवास की ड्राइवर दादी के नाम से रेशम बाई की सोशल मीडि‍या में जमकर चर्चा हो रही है।




और भी पढ़ें :