0

अमर शहीद भगत सिंह के 20 अनमोल विचार

बुधवार,सितम्बर 28, 2022
0
1

अग्रसेन जयंती कब है?

सोमवार,सितम्बर 26, 2022
Agrasen Jayanti 2022 महाराजा अग्रसेन को भगवान श्री कृष्ण के समकालीन माना जाता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार उनका जन्म आश्विन शुक्ल प्रतिपदा को हुआ था। वे हरियाणा के अग्रोहा शहर में एक राजा थे। इस वर्ष अग्रसेन जयंती 26 सितंबर, सोमवार को मनाई जा रही ...
1
2
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज जन्मदिन है। 2014 में मोदीजी भारत के पीएम बने थे। तब से लेकर अब तक उन्होंने भारत के विकास के लिए कई उल्लेखीय कार्य किए हैं। वे अब वैश्‍विक नेता के रूप में पहचाने जाते हैं। उनके द्वारा किए कार्यों की लंबी लिस्ट ...
2
3
आज महान इंजीनियर सर मोक्षकुंडम विश्वश्‍वैरिया की जयंती (Vishveshwarya Jayanti) है। वे एक बेहतरीन इंजीनियर थे, जिन्होंने कई महत्वपूर्ण कार्यों जैसे नदियों के बांध, ब्रिज और पीने के पानी की स्कीम आदि को कामयाब बनाने में अविस्‍मरणीय योगदान दिया है। आइए ...
3
4
Swami Brahmananda : स्वामी ब्रह्मानंद यानी शिवदयाल जी का व्यक्तित्व बहुत महान था। उन्होंने देश की स्वतंत्रता के लिए स्वयं को समर्पित करके देश की राजनीति में भी काफी योगदान दिया तथा शिक्षा, समाज और समाज सुधार के लिए काफी कार्य किए। आइए जानिए यहां ...
4
4
5

संत विनोबा भावे कौन थे, 10 बातें

शनिवार,सितम्बर 10, 2022
Vinoba bhave birth anniversary : 11 सितंबर 1895 को जन्मे विनोबा भावे भारत के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। उन्हें पहला अंतरराष्ट्रीय रेमन मैगसाय पुरस्कार दिया गया था। वे महात्मा गांधी के साथ स्वतंत्रता आंदोलन का हिस्सा बने थे और गांधी जी के ...
5
6
Dr. Sarvepalli Radhakrishnan Jayanti 2022 : प्रतिवर्ष 5 सितंबर को हम शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं। इस दिन डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती भी मनाई जाती है। शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी रहे डॉ. राधाकृष्णन एक बेहतरीन शिक्षक तथा विद्यार्थियों को ...
6
7
Saint Mother Teresa मदर टेरेसा का जन्‍म 26 अगस्‍त 1910 को हुआ था। नीले बॉर्डर वाली साड़ी पहनने वाली मदर टेरेसा ने जरूरतमंद को समय पर उपचार मिल सकें, इसके लिए बेसिक मेडिकल ट्रेनिंग भी लीं तथा मानव जाति की सेवा के कार्य में लग गई। आइए जानते हैं शांति ...
7
8
झांसी की रानी लक्ष्मीबाई आत्मविश्वासी, कर्तव्य परायण, स्वाभिमानी और धर्मनिष्ठ वीरांगना थीं। आइए जानते हैं भारतीय वसुंधरा को गौरवान्वित करने वाली झांसी की रानी के बारे में 10 अनजाने तथ्य
8
8
9
द्रौपदी मुर्मू ने ओडिशा में पार्षद बनने के साथ राजनीतिक जीवन की शुरुआत की थी। आओ जानते हैं उनके जीवन के संघर्ष के संबंध में सोशल मीडिया में वायरल हो रही 10 खास बातें।
9
10
रानी दुर्गावती का नाम भारत के इतिहास में जाना-माना नाम है, जिन्होंने अपनी मातृभूमि के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी। वे कालिंजर के राजा कीर्तिसिंह चंदेल की इकलौती संतान थीं। जानिए यहां उनके पराक्रम के बारे में...
10
11
Gulab Singh Lodhi भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन में अमर शहीद रहे गुलाब सिंह लोधी का आज बलिदान दिवस हैं। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में उनका योगदान अग्रणी रहा है। लेकिन दुर्भाग्य से गुलाब सिंह लोधी को इतिहासकारों ने पूरी तरह से उपेक्षित रखा है। यहां पढ़ें ...
11
12
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की शब्द और भाषा पर काफी अच्‍छी पकड़ थी। विरोधी दल भी उन्हें शांति से सुनता था। उनके शब्दों में कड़वाहट जरूर होती थी लेकिन फिर भी विपक्ष उनके आसपास खड़ा रहता था। अटल बिहारी वाजपेयी ने राजनीति, साहित्य और समाज में ...
12
13
महर्षि अरविन्द घोष (Aurobindo Ghosh) को दार्शनिक एवं क्रांतिकारी के नाम से जाना जाता है, वे बंगाल के महान क्रांतिकारियों में से एक थे। उनका जन्म 15 अगस्त को हुआ था और इसी दिन भारत को आजादी मिली थी, अत: स्वतंत्रता दिवस के दिन महान योगी अरविन्द घोष का ...
13
14
scientist dr. vikram sarabhai भारत के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. विक्रम अंबालाल साराभाई थे। उन्होंने मात्र 28 वर्ष की उम्र में भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला की स्थापना की थी, इसरो की स्‍थापना का श्रेय भी उन्हें ही जाता है। उन्होंने 86 वैज्ञानिक शोध पत्र लिखे ...
14
15
Khudiram Bose 11 अगस्त यानी आज वो ही दि‍न हैं, जिस दिन खुदीराम बोस देश की आजादी के लि‍ए शहीद हुए थे। आज भारतीय स्वाधीनता संग्राम में सबसे कम उम्र में देश के लिए शहीद हुए वीर क्रांतिकारी खुदीराम बोस की पुण्यतिथि है, आइए, जानते हैं उनकी वीर गाथा के ...
15
16
सपनों का रॉकेट भरकर उड़ान भरने वाली सुनीता विलियम्स ने 5 फरवरी को अंतरिक्ष में रहते हुए अपने नाम इतिहास दर्ज कर लिया था। जब दुनिया सुबह 5 फरवरी का आंखे मलती हुई उठ रही थी सुनीता विलियम्स ने उपलब्धियों की फेहरिस्‍त में एक और रिकॉर्ड दर्ज कर चुकी थी। ...
16
17
कहते हैं विपदाएं ही व्यक्ति को मजबूत बनती है। वास्तविक उदाहरण है बछेंद्री पाल। उन्होंने बचपन से संघर्षों के साथ स्वयं को ढाल लिया और उन परिस्थितियों को पार कर उन्होंने सागर के माथे पर ( सागरमाथा पर्वत ) कदम रख दिए। आइए जानते हैं बछेंद्री पाल के बारे ...
17
18

भारत कोकिला सरोजिनी नायडू

शुक्रवार,अगस्त 5, 2022
सरोजिनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 को हैदराबाद में हुआ था। उनके पिता का नाम अघोरनाथ चट्टोपाध्याय था, जो एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक और शिक्षाशास्त्री थे। उनकी माता का नाम वरद सुंदरी था, वे कवयित्री थीं और बंगला में लिखती थीं।
18
19
tulsidas jayanti 2022 तुलसीदास एक महान महाकवि हैं, उन्होंने रामचरित मानस जैसे ग्रंथ की रचना करके भारतीय इतिहास में अनूठा उदाहरण प्रस्तुत किया है। उनके लेखन की सूक्ष्मता को अत्यंत पैनी एवं गंभीर दृष्टि से देखा जाए तो जीवन की गहराइयों का वास्तविक अर्थ ...
19