डॉक्टर अब्दुल कलाम की पुण्यतिथि : जानिए 7 बड़ी बातें



डॉक्टर की पुण्यतिथि



डॉक्टर अब्दुल कलाम को प्रोजेक्ट डायरेक्टर के रूप में भारत का पहला स्वदेशी उपग्रह (एस.एल.वी. तृतीय) प्रक्षेपास्त्र बनाने का श्रेय हासिल है।

* जुलाई 1980 में इन्होंने रोहिणी उपग्रह को पृथ्वी की कक्षा के निकट स्थापित किया था।

* ए.पी.जे अब्दुल कलाम ने पोखरण में दूसरी बार न्यूक्लियर विस्फोट भी परमाणु ऊर्जा के साथ मिलाकर किया। इस तरह भारत ने परमाणु हथियार के निर्माण की क्षमता प्राप्त करने में सफलता अर्जित की।
* इसके अलावा पूर्व राष्ट्रपति, डॉक्टर कलाम ने भारत के विकास स्तर को 2020 तक विज्ञान के क्षेत्र में अत्याधुनिक करने के लिए एक विशिष्ट सोच भी प्रदान की।

* कलाम ऐसे तीसरे राष्ट्रपति हैं जिन्हें भारत रत्न का सम्मान राष्ट्रपति बनने से पूर्व ही प्राप्त हुआ है, अन्य दो राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन और डॉक्टर जाकिर हुसैन हैं।

* कलाम प्रथम ऐसे प्रथम राष्ट्रपति हैं जो वैज्ञानिक थे और अविवाहित भी।

* एक राष्ट्रपति के अलावा वह एक असाधारण
इंसान के तौर पर वह युवाओं की पहली पसंद रहे हैं। उनकी बातें, उनका व्यक्तित्व, उनकी पहचान न केवल एक राष्ट्रपति के रूप में हैं बल्कि जब भी लोग खुद को कमजोर महसूस करते हैं तो कलाम का नाम ही उनके जीवन के लिए प्रेरणा बन जाता है।


ALSO READ:
: को देश का सलाम





और भी पढ़ें :