इंदौर में बेअसर रहा भारत बंद, सामान्य रहीं कारोबारी गतिविधियां

Last Updated: सोमवार, 27 सितम्बर 2021 (14:43 IST)
इंदौर। केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ विभिन्न किसान संगठनों के बुलाए का मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले में सोमवार को कोई असर नजर नहीं आया और जनजीवन तथा कारोबारी गतिविधियां सामान्य बनी रहीं। चश्मदीदों ने बताया कि शहर की सड़कों पर यातायात आम दिनों की तरह नजर आया और माल परिवहन की गतिविधियां भी सुचारु रूप से जारी रहीं।
ALSO READ:

Live : कृषि कानूनों के विरोध में भारत बंद, सिंघु बॉर्डर पर किसान की मौत

भारत बंद को समर्थन दे रहे राष्ट्रीय किसान-मजदूर महासंघ की जिला इकाई के अध्यक्ष राजकुमार पाटीदार ने बताया कि उनके संगठन की योजना थी कि स्थानीय कृषि उपज मंडियों और अन्य स्थानों पर धरना-प्रदर्शन कर आम लोगों से किसान आंदोलन से जुड़ने की अपील की जाए। लेकिन प्रशासन की मंजूरी नहीं मिल पाने के कारण ऐसा नहीं किया जा सका।


राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ समर्थित भारतीय किसान संघ (बीकेएस) ने भारत बंद को समर्थन नहीं दिया। बीकेएस के मालवा प्रांत (इंदौर-उज्जैन संभाग) के अध्यक्ष कमल सिंह आंजना ने कहा कि हम चाहते हैं कि सरकार के साथ वार्ता के जरिए किसानों के मसले शांतिपूर्ण ढंग से हल किए जाएं।(भाषा)



और भी पढ़ें :