0

दिलीप कुमार: मेरे जीवन भर की प्रेमासक्ति

गुरुवार,जुलाई 22, 2021
0
1
इस फिल्म में अब्बास साहब ने अमिताभ बच्चन के लिए ‘लम्बू इंजीनियर’ का किरदार रचा गया था, लेकिन तब तक अमिताभ व्यस्त अभिनेता बन चुके थे, इसलिए उनकी जगह फिर किरण कुमार को फिल्म में लिया गया। किरण कुमार की वह पहली फिल्म बनी’, डॉ सईदा हमीद ने फिल्म ‘दो ...
1
2
डॉ सीमा रायज़ादा (क्लब लिटराटी की प्रेजिडेंट और संस्थापक) इस मौके पर लेखिका से संवाद करेंगी और उनसे कैंसर जैसी बीमारी से लड़ने की कहानी को सबके सामने प्रेरणास्वरूप रखेंगी।
2
3
इमोजी सबसे तेजी से बढ़ती भाषाओँ में से एक हो गया है। इमोजी को शुरू में जापान में उपयोग किया जाता था और अब इसका इस्तेमाल पूरे विश्व में होने लगा है इमोजिपिडिया के संस्थापक जेरेमी बर्ज ने 2014 में विश्व इमोजी दिवस मनाने का निर्णय लिया, उसके बाद 17 ...
3
4
प्रभाष जी को धोक देने की इच्छा मन में थी। इसलिए शनिवार सुबह मोती तबेला उनके घर पहुंच गया। वहीं पहुंचकर यकीन हुआ कि नर्मदा ‘उदास और गतिहीन’ है। यकीन तब और पुख्ता हुआ, जब वहां अंतिम संस्‍कार में शामिल होने के लिए एकत्र हुई भीड़ के बीच अखबार में उन्‍हीं ...
4
4
5
हम स्वयं नहीं जानते कि कब कौन-सी बात स्मृति-पटल पर अंकित हो जाती है और जाने किस मोड़ पर ये बावरी दबे पांव हमारी पथ-सखी बन जाती है। बेटा जब दूर देश की यात्रा के लिए निकलता है, तो मां सजल नेत्रों से प्रेम-पगा कलेवा बांध उसे विदा करती है। परदेस में ...
5
6
आसमान में एक अद्भुत घटना होने वाली है। दो सितारों का मिलन होने वाला है। ये सितारे हैं मंगल और शुक्र। दिन में यदि तारे देख पाएँ तो यह घटना 13 जुलाई को होने वाली है। - स्वरांगी साने
6
7
नए पाठक की इसी ‘आधुनिक चेतना’ और ‘तकनीकी मिजाज’ का ख्‍याल करते हुए बिन्‍ज हिंदी एप का उदय होता है। बि‍न्‍ज हिंदी ‘क्‍लासिक्‍स’ से लेकर नई और ओरि‍जि‍नल राइटिंग को जगह देने का काम करेगा। इसमें कई श्रेष्‍ठ लेखकों की रचनाओं की एक लंबी फेहरिस्‍त है, जिसे ...
7
8
हम सबने बचपन में अनेक छन्द पढ़े हैं। सबसे ज़्यादा अगर हमें याद रहता है तो वो है दोहा, या शायद छन्द के नाम पर सबसे पहले दोहा ही याद आता है। अगर दोहे को उल्टा कर दें तो सोरठा बन जायेगा। इसे ठीक से समझने के लिए पहले दोहा समझते हैं क्योंकि, दोहे की लय और ...
8
8
9
कबीर वाकई अपने आने वाले समय की अमिट वाणी थे। कबीर का जन्म इतिहास के उन पलों की घटना है जब सत्य चूक गया था और लोगों को असत्य पर चलना आसान मालूम पड़ता था। अस्तित्व, अनास्तित्व से घिरा था। मृत प्राय मानव जाति एक नए अवतार की बाट जोह रही थी। ऐसे में कबीर ...
9
10
संत कबीर दास भक्‍तिकाल के एकमात्र ऐसे कवि हैं, जिन्‍होंने अपना संपूर्ण जीवन समाज सुधार के कार्यो में लगा दिया। कबीर कर्म प्रधान कवि थे, इसका उल्‍लेख उनकी रचनाओं में देखने को मिलता है। कबीर का संपूर्ण जीवन समाज कल्‍याण एवं समाज हित में उल्लेखनीय है। ...
10
11
24 जून 2021 महान कवि एवं संत कबीर दास की जयंती है। कबीर भारतीय मनीषा के प्रथम विद्रोही संत हैं, उनका विद्रोह अंधविश्वास और अंधश्रद्धा के विरोध में सदैव मुखर रहा है।
11
12
संतों की संगत कभी निष्फल नहीं होती । मलयगिर की सुगंधी उड़कर लगने से नीम भी चन्दन हो जाता है, फिर उसे कभी कोई नीम नहीं कहता।
12
13
नृत्य, संगीत और वाद्ययंत्रों का अविष्कार भारत में ही हुआ है। हिन्दू धर्म का नृत्य, कला, योग और संगीत से गहरा नाता रहा है। हिन्दू धर्म मानता है कि ध्वनि और शुद्ध प्रकाश से ही ब्रह्मांड की रचना हुई है। 21 जून 2021 को विश्व संगीत दिवस है। आओ जानते हैं ...
13
14
विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर वामा साहित्य मंच ने बात की देश की प्रमुख नदियों पर.....उनके संरक्षण पर...उनके पौराणिक और ऐतिहासिक महत्व पर..ऑनलाइन सम्पन्न इस आयोजन में जब 25 के करीब नदियों की धारा बही तो हर कोई उसमें भीग कर आनंदित और संकल्पित हो ...
14
15
राष्ट्रीय हिंदी पत्रकारिता दिवस हर साल 30 मई को मनाया जाता है। इस दिन को हर साल इसलिए मनाया जाता है क्योंकि आज के दिन हिंदी भाषा में ‘‘उदंत मार्तदण्ड’’ के नाम से पहला समाचार पत्र 1826 में निकाला गया था। पंडित जुगल किशोर शुक्ल ने इस अखबार की शुरुआत ...
15
16
हिन्दी पत्रकारिता दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। हिन्दी के पहले अखबार के प्रकाशन को 193 वर्ष हो गए हैं।
16
17
अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस हर साल 15 मई को मनाया जाता है। हर साल विश्व परिवार दिवस की संयुक्त राष्ट्र द्वारा एक थीम तैयार की जाती है। इस बार कोरोना काल को
17
18
भारतीय राष्ट्रगान के रचयिता रवींद्रनाथ टैगोर का जन्म 7 मई 1861 को जोड़ासांको में हुआ था।
18
19
वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम डे 2021 यानि अंतर्राष्ट्रीय प्रेस स्वतंत्रता दिवस हर साल 3 मई को पूरी दुनिया में मनाया जाता है। प्रेस को लोकतंत्र का स्तंभ भी कहा जाता है। आज के बदलते दौर में सरकार अब सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय है लेकिन खिलाफ जाने पर आपकी ...
19