0

जलवायु तटस्थ बनने के लिए अरबों रुपए क्यों खर्च कर रहा है जर्मनी

सोमवार,सितम्बर 27, 2021
0
1
कन्नौज के महान सम्राट मिहिर भोज की जाति को लेकर फिलहाल विवाद चल रहा है, लेकिन जानकार करते हैं सूर्यवंशी, चंद्रवंशी, अग्निवंशी, ऋषिवंशी, नागवंशी, भौमवंशी आदि वंशों में बंटा हुआ है छत्रिय वंश। जहां तक गुर्जर समुदाय की बात हैं वे सभी सूर्यवंशी हैं। ...
1
2
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अमेरिका दौरा संपन्न हो चुका है। इस दौरे में मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ पहली बार आमने-सामने द्विपक्षीय बैठक हुई।
2
3
आखिरकार क्वाड देशों के नेताओं की आमने-सामने बातचीत हो ही गई। बैठक में मोदी ने क्वाड को 'फोर्स फॉर ग्लोबल गुड' कहा तो बाइडेन ने फ्री एवं ओपन इंडो-पैसिफिक क्षेत्र को बचाने, संवारने की अपील की। ये देश क्या करने वाले हैं।
3
4
बीजेपी ने शुक्रवार को आधिकारिक घोषणा कर दी कि वो 2022 का उत्तर प्रदेश विधासनभा चुनाव निषाद पार्टी के साथ मिलकर लड़ेगी।
4
4
5
हजारों ताड़ के पौधों से भरे ट्रैक्टरों के काफिले दक्षिणपूर्वी भारत के इलाकों में पहुंच रहे हैं। दुनिया में पाम ऑयल के सबसे बड़े खरीदार, भारत ने घरेलू उत्पादन बढ़ाने के लिए 1.5 अरब डॉलर की योजना शुरू की है।
5
6
एक नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पिछले 41 सालों में जर्मनी के आकार से छह गुना ज्यादा आर्कटिक की बर्फ पिघल गई। इससे पूरी दुनिया में समुद्रों का सतह नाटकीय रूप से बढ़ा है।
6
7
उत्तर कोरिया ने कहा है कि 1950-53 के युद्ध की औपचारिक समाप्ति की घोषणा दक्षिण कोरिया की अपनी जल्दबाजी है। उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया के साथ संघर्ष को औपाचारिक रूप से खत्म मान लेने की अपील को खारिज कर दिया है। उसने कहा है कि यह अमेरिका की उत्तर ...
7
8
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका की यात्रा पर हैं। अपने दौरे में वो संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे मगर उससे पहले वो अमेरिका और कुछ और देशों के राष्ट्राध्यक्षों तथा कंपनियों के प्रमुखों से भी मिलेंगे।
8
8
9
ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा है कि उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति इमेनुएल मैक्रों से बातचीत करने की कोशिश की है लेकिन वह अब तक सफल नहीं हो पाए हैं। ब्रिटेन ने फ्रांस को गुस्सा थूकने को कहा है। संयुक्त राष्ट्र और क्वॉड नेताओं की ...
9
10
पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की मुख्यमंत्री पद से विदाई को अगर संकेत माना जाए तो साफ है कि कांग्रेस में अब करीब 3 दशक पुराने उस दौर की फिर शुरुआत हो गई है, जब कोई क्षत्रप आलाकमान को आंख दिखाने की हिम्मत नहीं करता था। हालांकि पार्टी की कमान अभी ...
10
11
आज यानी 23 सितंबर, 2021 को वेबदुनिया ने अपनी यात्रा के 22 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं। वेबदुनिया, हमारी वेबदुनिया से पहले आपकी वेबदुनिया, सजग और सुयोग्य पाठकों की वेबदुनिया... आज आपके ही प्यार, विश्वास और सम्मान ने हमें यह दिवस मनाने का सुअवसर दिया है।
11
12
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष एवं बाघंबरी मठ के महंत रहे नरेंद्र गिरि को बुधवार दोपहर प्रयागराज में भू-समाधि दी गई है। निरंजनी अखाड़े से जुड़े महंत नरेंद्र गिरि ने सोमवार 20 सितंबर को प्रयागराज के बाघंबरी मठ में कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी।
12
13
कार्बनमुक्त भविष्य के लिए जर्मनी ग्रीन हाइड्रोजन को जादुई हथियार मानता है। खासकर उन उद्योगों के लिए जिनका कार्बन उत्सर्जन बहुत ज्यादा है। लेकिन राष्ट्रीय हाइड्रोजन प्लान में चुनाव बाद कुछ बदलाव देखने को मिल सकते हैं।
13
14
एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले एक साल में रिकॉर्ड संख्या में देशों में यूजर्स को सोशल मीडिया पोस्ट के लिए गिरफ्तारी और शारीरिक हमलों का सामना करना पड़ा। रिपोर्ट में डिजिटल स्वतंत्रता की एक गंभीर तस्वीर पेश की गई है।
14
15
एस्बेस्टस अपने पूरे जीवनकाल में हानिकारक बना रहता है और इससे फेफड़ों के कैंसर, एस्बेस्टोसिस जैसी गंभीर बीमारियों का खतरा होता है। इसलिए दुनिया के करीब 70 देशों ने एस्बेस्टस उत्पादों पर रोक लगाई है।
15
16
भारत ने कहा है कोविड वैक्सीन की दो डोज़ लगवा चुके लोगों को ब्रिटेन में वैक्सीनेटेड न माना जाना भेदभावपूर्ण है। भारतीय विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में यह बात कही।
16
17
देश में पिछले साल कोरोना के कारण लॉकडाउन लगा था लेकिन सड़क हादसों में कोई कमी नहीं आई। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े बताते हैं कि हर रोज औसतन 328 लोगों की मौत हुई।
17
18
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और प्रयागराज स्थित बाघंबरी मठ के महंत नरेंद्र गिरि की उनके आवास पर संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। उनका शव प्रयागराज के अल्लापुर स्थित बांघबरी गद्दी मठ के एक कमरे में मिला है।
18
19
असम में तैयार एनआरसी को कानूनी वैधता प्रदान के मामले पर अब तक कोई फैसला नहीं हुआ है। इस वजह से लाखों लोगों का भविष्य अधर में लटका है।
19