Health Tips for karwa chauth : करवा चौथ पर सेहत के लिए ये 10 तैयारी जरूर रखें

करवाचौथ का व्रत सुबह सूरज उगने के पूर्व से शुरू होता है, जो चांद निकलने पर ही समाप्त होता है। ये व्रत सुहागिन महिलाओं के लिए बहुत खास होता है। करवा चौथ के दिन अन्न और जल ग्रहण नहीं करते हैं, जिससे शरीर व स्वास्थ्य पर भी इसका असर होता है। ऐसे में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से बचने के लिए कुछ बातों का विशेष रूप से ध्यान रखें -

1 चांद निकलने पर पूजा समाप्त होने के बाद एक बार में अधि‍क भोजन करने से बचें। घंटों तक खाली पेट रहने के बाद एकदम से पेट भरकर खाने से न केवल पेट दर्द की समस्या हो सकती है, बल्कि पाचन में भी परेशानी हो सकती है।

2 इतने लंबे समय तक खाली पेट रहने के बाद पहले सिर्फ एक गिलास पानी पीना ही बेहतर होगा, ताकि पेट में ठंडक पहुंचे, और बाद में होने वाली पाचन संबंधी समस्याओं से बचा जा सके।
3
आप चाहें तो नींबू पानी, लस्सी, नारियल पानी य फिर मौसंबी का जूस ले सकती हैं। इससे आपको उर्जा महसूस होगी, और यह आपके पाचन तंत्र की कार्यप्रणाली को भी ठीक करने में सहायक होंगे।

4 व्रत के बाद प्रोटीन से भरपूर आहार लेने का प्रयास करें, आपके शरीर में उर्जा की पूर्ति करने में मदद करेगा। इसके लिए आप कुछ समय रूककर, पनीर व्यंजन या अंकुरित आहार ले सकती हैं।

5
दिनभर के उपवास के बाद तेल मसाले वाले भाेजन से बचने की कोशि‍श करें। मिठाईयों और तले हुए व्यंजनों से दूरी बनाए रखें, ताकि आपके पाचन तंत्र पर अधि‍क दबाव न पड़े, और स्वास्थ्य भी सही हो।
6
आप अगर चाहें तो मिले जुले आटे की रोटी बना सकती हैं। सब्जियों में लौकी, गिल्की, कद्दू, टमाटर, भिंडी, दाल व दही जैसे पाचक व हल्की चीजें ले सकते हैं। दिनभर उपवास के बाद आपका पाचनतंत्र इसे आसानी से पचा सकेगा।

7
आप चाहें तो दही के साथ फलों का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। इसके अलावा फ्रूट चाट भी एक बेहतरीन विकल्प है, जो आपका पेट भी
भरेगा और शरीर को उर्जा भी देगा।

8 मिले जुले आटे से बना उपमा भी आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। यह पौष्टि‍क भी होगा और पाचक भी। लेकिन ध्यान रखें कि व्रत के बाद जो भी खाएं वह कम मात्रा में ही खाएं।

9. दूध, दही, पनीर, छैने की बनी चीजें ली जा सकती है, ताकि आपका पेट देर तक भरा रहे। लेकिन ज्यादा मीठा खाने से बचें, क्योंकि इससे आपको भूख और प्यास लग सकती है।व्रत के पहले सूखे मेवों का सेवन बढ़िया विकल्प होता है क्योंकि ये आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगने देते और शरीर में ऊर्जा का स्तर भी बनाए रखते हैं। तेल-मसाले युक्त खाने से दूर रहें।
10
व्रत खोलने के बाद एकदम से मसालेदार भारी लगने वाला भोजन लेना सही नहीं है। व्रत खोलते समय बेहद हल्का भोजन लें। चाहें तो जूस से शुरुआत कर सकते हैं। ऐसा आहार लें जो आसानी से पच जाए। चावल व अन्य ऐसे आहार से दूर रहें जो पाचन में अधिक समय लेते हैं।




और भी पढ़ें :