ब्रेस्ट सर्जरी वरदान भी, अभिशाप भी : जानिए mastectomy और Mammoplasty में क्या है अंतर

ब्रेस्ट कैंसर की रिस्क को कम करने के लिए हो रही है ब्रेस्ट सर्जरी


सानवी पटेल
नाम से ही डरा देने वाली बीमारी कैंसर का एक रूप है ब्रेस्ट कैंसर। महिलाओं में पाई जाने वाली यह बीमारी बेहद दर्दनाक और जानलेवा हो सकती है। बदलती जीवनशैली के साथ महिलाओं में का रिस्क भी बढ़ रहा है। इस खतरे को कम करने के लिए महिलाएं mastectomy नामक सर्जरी करवा रहीं हैं।


दरअसल, mastectomy एक ऐसी सर्जरी है जिसमें सभी ब्रेस्ट टिशू को निकाल दिया जाता है।

Mastectomy एक हाई रिस्क सर्जरी होती है जो काफ़ी दर्दनाक होती है और आम जीवन को पूरी तरह बदल देती है। बेहद रिस्क और साइड इफेक्ट्स वाली इस सर्जरी को ब्रेस्ट कैंसर से बचने का एक अच्छा विकल्प माना गया है। इसी से मिलता–जुलता एक और शब्द है mammoplasty।

Mammoplasty भी एक तरह की ब्रेस्ट सर्जरी है जिसमें ब्रेस्ट को नया आकार दिया जाता है। इस सर्जरी से ब्रेस्ट पर मौजूद एक्सेस फैट, टिशू और स्किन को निकाल दिया जाता है। Mammoplasty महिलाएं अपने ब्रेस्ट का सौंदर्य बढ़ाने के लिए करवाती हैं।


रही बात mastectomy की तो यह सर्जरी ब्रेस्ट कैंसर के ट्रीटमेंट या उससे बचाव का एक जरिया है। इसे ब्रेस्ट कैंसर की स्थिति में शुरुआती स्टेज में किया जाता है।

इसके अलावा mastectomy के बारे में अन्य बातें यह हैं कि-

1. इसमें महिलाओं के एक या दोनों ब्रेस्ट को निकाल दिया जाता है। Lumpectomy नाम की सर्जरी, जिसमें ब्रेस्ट से सिर्फ़ ट्यूमर निकाला जाता है, यह उससे थोड़ी अलग है।

2. यह सर्जरी करने में कम से कम 4 घंटों का समय लगता है और यह बेहद रिस्की भी है।

3. आंकड़े बताते हैं कि 40%–60% महिलाएं, जो ये सर्जरी करवाती हैं उन्हें क्रोनिक पेन का एहसास होता है जो 3 महीनों से ज्यादा समय तक रहता है।
4. Mastectomy करवाने के बाद घर के काम, ड्राइविंग या ऐसा कोई भी काम जिसमें बाजुओं का ज्यादा इस्तेमाल हो वह ना करने की सलाह दी जाती है।

5. यदि ब्रेस्ट में दो या उससे ज्यादा ट्यूमर हों तब डॉक्टर्स mastectomy करवाने की सलाह देते हैं।

ब्रेस्ट सर्जरी वरदान भी, अभिशाप भी
वास्तव में ब्रेस्ट सर्जरी की एक टैक्निक mastectomy जहां कैंसर से बचने के लिए वरदान सिद्ध हो रही है वहीं दूसरी तरफ ब्यूटीफिकेशन के लिए की जाने वाली सर्जरी Mammoplasty से कई कॉम्प्लिकेशंस हो रहे हैं, कई नई बीमारियां दे रही हैं, उस लिहाज से अभिशाप बन रही है। हमें बॉडी शेमिंग, ट्रोलर्स,नेटिजन्स, लोग क्या कहेंगे जैसे फैक्टर्स से बचते हुए जैसे हैं वैसे ही रहना चाहिए...पर हां सर्जरी mastectomy इन दिनों ट्रेंड में है क्योंकि ब्रेस्ट कैंसर की रिस्क कम करना भी तो जरूरी है।





और भी पढ़ें :