धूप : विटामिन डी का सबसे सस्ता इलाज, जानिए धूप लेने के सही तरीके

विटामिन डी शरीर को मजबूत बनाने का सबसे अच्छा स्त्रोत है। इसकी कमी होने पर शरीर का ढांचा भी बदलने लगता है। विटामिन डी की कमी से शरीर में कई तरह के रोग जन्म लेने लगते हैं तो कई बार लोग समय से पहले बूढ़े होने लगते हैं और कई तरह की बीमारियों से ग्रसित हो जाते हैं। डॉक्टर के पास जब शुरुआती इलाज के लिए जाते हैं तो वह दवा कम और धूप लेने की सलाह ज्यादा और सबसे पहले देते हैं। तो आइए जानते हैं धूप लेने का सही तरीका और समय क्या है? और धूप लेने के क्या फायदे हैं?


- धूप में बैठने का सबसे अच्छा समय होता है सुबह 7 से 9 बजे तक। यानी सिर्फ 2 घंटे। इसके बाद धूप तीखी होने लगती है जिससे स्किन को खतरा होता है।

- अक्सर धूप लेते समय सूरज की ओर पीठ करके बैठना चाहिए। आप कुछ देर अपने हाथ-पैर और पेट को भी धूप में रख सकते हैं। गुनगुनी धूप में किसी प्रकार का नुकसान नहीं होता है। अधिक तेज किरण होने पर कैंसर का खतरा भी रहता है।

- त्वचा का रंग अधिक डार्क नहीं होने पर आपको 15 मिनट बैठना चाहिए। वहीं अगर ज्यादा त्वचा का रंग डार्क है तो कम से कम 1 घंटे बैठना चाहिए।

धूप लेने के फायदे

- धूप से विटामिन डी मिलता है। साथ ही शरीर में मेलाटोनिन नामक हार्मोन भी बनता है जिससे आपको नींद आने लगती है। यदि आपके शरीर में मेलाटोनिन पर्याप्त मात्रा में हैं तो आपको रात में अच्छी नींद आएगी।

- शरीर के लिए 80 प्रतिशत विटामिन डी धूप से मिलता है और 20 फीसदी डाइट से।

- धूप लेने से पाचन प्रक्रिया अच्छी होती है। साथ ही शारीरिक शक्ति भी बढ़ती है।

- धूप लेने से डिप्रेशन कम होता है। इससे आपको अच्छा महसूस करने वाले हार्मोन बनते हैं। जिसमें मुख्य रूप से सेरोटोनिन और एंडोर्फिन का धूप के असर से शरीर में पहुंचने पर काफी हद तक आराम मिलता है। धूप लेने से डिप्रेशन के साथ ही सीजनल अफेक्टिव ऑर्डर डिसऑर्डर, साइकोलॉजिकल और इमोशनल हेल्थ में काफी आराम मिलता है।


Health Care







और भी पढ़ें :