जिम जा रहे हैं तो सचेत रहिए, ये हैं 10 बड़ी सावधानियां

इन दिनों लोग के प्रति काफी जागरूक है। ऐसे में जो लोग पूरे साल करते हैं उन्हें अलग-अलग मौसम में किस तरह से जिम करना चाहिए, किस समय जिम करना चाहिए, क्या सावधानियां बरतनी आदि बातों का ध्यान रखना चाहिए। आइए, हम आपको बताते हैं कि करते हुए किन बातों पर ध्यान देना चाहिए -


1 जिम में अक्‍सर एसी चलता है लेकिन गर्मी लगने पर। कभी भी उसकी
स्‍पीड नहीं बढ़ाए। उसे सामान्‍य तापमान पर ही चलने दें।

2
एक्सरसाइज के दौरान अत्यधिक पसीने से शरीर में पानी की कमी न हो, इसलिए पूरा दिन और एक्सरसाइज के बीच-बीच में भरपूर पानी पीते रहें।

3 एक्सरसाइज करने के पहले या इस दौरान एनर्जी ड्रिंक्स पीने से परहेज करें, क्योंकि ये शरीर में जाकर तुरंत एनर्जी में बदल जाते है। ऐसी स्थिति में अगर आप वजन घटाने या बॉडी को शेप में लाने के लिए एक्सरसाइज कर रहे हैं, तो आपके शरीर में जमा फैट की जगह एनर्जी ड्रिंक्स से मिली ऊर्जा का इस्तेमाल एक्सरसाइज के दौरान हो जाएगा और शरीर का फैट कम नहीं हो पाएगा।
4 एक्सरसाइज करते समय शरीर का तापमान बढ़ जाता है और पसीना भी आना आम बात है, लेकिन एक्सरसाइज के तुरंत बाद शॉवर नहीं लेना चाहिए। बल्कि एक्सरसाइज के बाद शरीर को थोड़ा आराम देना चाहिए, जिससे शरीर का तापमान अपने आप कम हो जाए। कोशिश करें कि एक्सरसाइज करने के एक घंटे बाद ही नहाएं।

5 एक्सरसाइज करने के दौरान कॉटन के हल्के रंगों के कपड़े पहनें। साथ ही ध्यान रखें कि वे ज्यादा चुस्त न होते हुए ढीले हो, जिससे हवा शरीर को लगती रहें।

6 में एक्सरसाइज करने के दौरान ध्यान रखें कि एयर कंडिशनर व पंखें के एक दम सामने कोई एक्‍सरसाइज न करें।

7 एक्सरसाइज करने के दौरान ये भी ख्याल रखें कि खाली पेट कोई भी एक्‍सरसाइज न करें। ऐसे में सुबह जल्दी उठकर या शाम को जब तापमान थोड़ा कम हो जाए, तभी एक्सरसाइज करें।
8.अक्‍सर लोग देर तक एक्‍सरसाइज करते रहते हैं जब तक वह बॉडी पूरी तरह से थक नहीं जाती हैं। ऐसी एक्‍सरसाइज का क्‍या मतलब जिसे करने के बाद अस्‍वस्‍थ्‍य महसूस करें।

9. अगर जिम जा रहे हैं तो ट्रेनर से जरूर चर्चा करें क्‍या खा कर एक्‍सरसाइज कर सकते हैं। भरे पेट से वर्कआउट करने से पेट में क्रेंप भी पड़ सकते हैं।
10.लगातार बढ़ रही हार्टअटैक की घटनाओं का एक कारण यह भी है कि बिना उचित सलाह के प्रोटीन की मात्रा बढ़ाने पर बॉडी पर साइड इफेक्‍ट नजर आने लगते हैं। जानकारों के मुताबिक जरूरत से अधिक मसल्‍स बढ़ाने पर टिश्‍यूस फट जाते हैं। और एक वह भी मौत का बहुत बड़ा कारण बन जाता है।



और भी पढ़ें :