हैप्पी टेक्नोलॉजी डे : आज है National Technology day,जानिए इस दिन का क्या है महत्व

प्रौद्योगिकी दिवस, राष्ट्रीय तकनीकी दिवस, (National Technology day) भारत में हर साल को मनाया जाता है। इस दिन से जुड़ी 3 प्रमुख घटनाएं हैं, जिनमें सबसे अहम 1998 में राजस्थान के पोखरण में हुआ परमाणु परीक्षण है। इसके बाद भारत परमाणु संपन्न देशों की सूची में शामिल हो गया।

: 11 मई को भारत में हर साल राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (National Technology day) मनाया जाता है। तकनीक और विज्ञान के क्षेत्र में भारत ने कितनी तरक्की कर ली है और अब तक किन-किन बड़ी उपलब्धियों को हासिल किया है, इसे याद करने के लिए ही हर साल राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस सेलिब्रेट किया जाता है। वैसे, इस दिन से जुड़ी एक प्रमुख घटना भी है, जिसके चलते इसे 11 मई को ही मनाया जाता है।

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस का इतिहास :
दरअसल, 11 मई 1998 को भारत ने तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की अगुवाई में राजस्थान के पोखरण में सफल परमाणु परीक्षण किया था। इसके बाद से भारत का नाम भी परमाणु संपन्न देशों की सूची में शामिल हो गया और आज भारत नित नए प्रयोगों और तकनीक के साथ सशक्त होगया है। पोखरण में हुए परमाणु परीक्षण का नेतृत्व ने किया था। इसके बाद अगले साल
11 मई, 1999 को भारत में पहला National Technology day मनाया गया। तब से इसे हर साल इसी दिन सेलिब्रेट किया जाता है।


नेशनल टेक्नोलॉजी
डे का :
नेशनल टेक्नोलॉजी डे (National Technology day) का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है, क्योंकि 11 मई को ही डिफेंस रिसर्च एंड डेवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) ने त्रिशूल मिसाइल का सफल परीक्षण किया था। त्रिशूल शॉर्ट रेंज की मारक क्षमता वाली मिसाइल है, जो
अपने लक्ष्य पर तेजी से हमला करती है। इसके अलावा इसी दिन भारत के पहले एयरक्राफ्ट Hansa-3 ने उड़ान भरी थी। इसे नेशनल एयरोस्पस लैब ने तैयार किया था। यह दो सीटर हल्का विमान है, जिसका उपयोग पायलटों को ट्रेनिंग देने, हवाई फोटोग्राफी और पर्यावरण संबंधी प्रोजेक्ट्स के लिए किया जाता है।


तत्कालीन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) ने भारतीय वैज्ञानिकों और इंजीनियर्स के योगदान को याद करते हुए नेशनल टेक्नोलॉजी डे (National Technology day) मनाने का ऐलान किया था। तब से इसे हर साल 11 मई को आयोजित करता है। इसके लिए हर साल एक थीम भी तय की जाती है। इसके अलावा नेशनल टेक्नॉलजी डे पर टेक्नॉलजी इंस्टिट्यूट और इंजीनियरिंग कॉलेजों में भी कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।



और भी पढ़ें :