24 सितंबर: पहले ही प्रयास में ‘अंतरिक्ष यान’ को ‘मंगल की कक्षा’ में भेजा था भारत ने

Last Updated: शुक्रवार, 24 सितम्बर 2021 (13:43 IST)
24 सितंबर का दिन भारत के लिए बहुत खास है। इस दिन को वि‍ज्ञान के क्षेत्र में हमेशा याद रखा जाएगा। खासतौर से अंतरिक्ष में रूचि रखने वालों के लिए यह दिन वि‍शेष महत्‍व रखता है।

दरअसल, चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने की भारत की तमाम कोशिशें पिछले सालों में भले ही कामयाब नहीं हो पाई थीं, लेकिन यह महीना अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारत की एक अहम उपलब्धि के साथ इतिहास के पन्नों में दर्ज है। दरअसल, भारत ने 24 सितम्बर, 2014 को, अपने पहले ही प्रयास में अपने अंतरिक्ष यान को मंगल की कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित करके एक बड़ा कारनामा अंजाम दिया था।

भारत 24 सितंबर, 2014 को मंगल पर पहुंचने के साथ अपने पहले ही प्रयास में यह उपलब्धि हासिल करने वाला विश्व का पहला देश बन गया।

एशिया के दो दिग्गज चीन और जापान को भारत ने पीछे छोड़ दिया क्योंकि यह दोनों देश अपने पहले मंगल अभियान में सफल नहीं हो पाए थे।



और भी पढ़ें :