इंदौरी शायरी- वो मेरे दिल में भराए इस तरा

No Image Found
वो मेरे दिल में भराए इस तरा, 
पोहे में सेंउ भराती जिस तरा
उतर आए हमारे दिल में कुछ ऐसे वो 
उतरती कचोरी में चटनी जिस तरा 
कुछ दिन पहले उनकी याद में, 
इस कदर अपन रोए 
सूरत हुई अपनी जेसे,  
बिगर प्याज के पोए 
आने से उनके चमके अपन कुछ ऐसे, 
चमकते जोशी जी के धई-वड़े जिस तरा
 
मेरे प्रपोजल पे तुम हओ तो के दो, 
करते हो हमसे लव तो के दो 
वर्ना इश्क में तेरे टूट जाएंगे हम जालिम, 
सराफे में टूटे चाट पे पपड़ी जिस तरा



और भी पढ़ें :