फनी कविता : घोड़ी चढ़ के आना...


सरसों का तेल लगाना,
बन्ने घोड़ी चढ़ के आना।
 
आप भी आना संग,
बराती को लाना।
 
नचत-कूदत चले आना,
बन्ने घोड़ी चढ़ के आना।
 
आप भी आना बैंड,
बाजा भी लाना।
 
गाते-बजाते चले आना,
बन्ने घोड़ी चढ़ के आना।
 
आप भी आना,
सिंगार सारे लाना।
 
दुल्हन बना के ले जाना,
बन्ने घोड़ी चढ़ के आना।



और भी पढ़ें :