रेल रोको आंदोलन को लेकर छावनी में तब्दील हुए रेलवे स्टेशन व आउटर

अवनीश कुमार| Last Updated: सोमवार, 18 अक्टूबर 2021 (13:58 IST)
लखनऊ। कृषि कानूनों के विरोध में किसानों की ओर से आज सोमवार को का आह्वान किया गया है। कृषि कानूनों के विरोध के साथ ही किसान अब पूरी तरह से कड़ा विरोध करने को लेकर प्लान बना चुके हैं। किसानों के इस ऐलान के बाद से अलर्ट मोड पर है। जीआरपी व को सुरक्षा की जिम्मेदारी मजबूत करने के निर्देश दिए गए हैं। किसान पूरे प्रदेश में भी रेल रोकने की तैयारी में हैं। वहीं जिले के पुलिस कप्तान ने स्थानीय पुलिस के साथ-साथ स्पेशल टीम को भी मैदान में उतारा है।

बताते चलें कि किसानों का रेल रोको का आंदोलन तेजी से बढ़ रहा है। प्रदेश के सभी जिलों से पुलिस विभाग को मिल रही जानकारी की मानें तो कई जगहों पर किसान रेल रोकने की तैयारी में हैं, वहीं लखनऊ-कानपुर रेल रूट बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। लखनऊ से दिल्ली तक ट्रेनों का आवागमन होता है और व्यस्त रूट भी माना जाता है।

किसानों के आंदोलन को लेकर अब किसान नेताओं को घरों में नजरबंद किया गया है और क्रॉसिंग से लेकर स्टेशन पर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है जिससे कि कोई भी किसान कहीं पर रेल को न रोक सके। इसमें लखनऊ स्टेशन से लगाकर, सहजनी क्रॉसिंग, मगरवारा रेलवे स्टेशन, गंगाघाट रेलवे स्टेशन, अजगैन, उन्नाव रेलवे स्टेशन, सोनिक, कानपुर रेलवे स्टेशन समेत अन्य क्रॉसिंग शामिल हैं। उधर प्रदेश में बस स्टैंड व प्रमुख चौराहों पर भी भारी फोर्स तैनात किया गया है। किसानों को रोकने के साथी पुलिस बल को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए सीओ को मॉनिटरिंग ऑफिसर तैमात किया गया है, वहीं रेलवे स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ चप्पे-चप्पे पर मुस्तैद है। पुलिस के साथ ही स्पेशल स्क्वॉड टीम को भी फील्ड में उतारा गया है।



और भी पढ़ें :