Bharat Bandh: किसान आंदोलन से दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर लगा भारी जाम, कारें ही कारें दिखाई दे रहीं

Last Updated: सोमवार, 27 सितम्बर 2021 (12:38 IST)
नई दिल्ली। संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानूनों के खिलाफ 27 सितंबर को लेकर जो भारत बंद आहूत किया था, उसका सुबह से असर दिखने लगा। सोमवार को कामकाज के पहले दिन दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर लग गया। कारों का रेला इतना लंबा था कि सैकड़ों मीटर तक सिर्फ कारें ही कारें दिखाई पड़ रही थीं।
ALSO READ:
Bharat band का असर, दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर लगा जमा, ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवायजरी

आंदोलित किसानों ने सुबह ही ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे को गाजीपुर बॉर्डर पर जाम किया है। एनएच 24 और एनएच9 दोनों जाम कर दिए गए हैं। दिल्ली पुलिस ने ट्वीट कर ट्रैफिक को लेकर अलर्ट किया है। उसने कहा है कि यूपी से गाजीपुरकी ओर ट्रैफिक मूवमेंट फिलहाल रोक दिया गया है। उधर गाजियाबाद पुलिस ने भी ट्रैफिक डायवर्सन को लेकर यात्रियों को अलर्ट जारी किया है। वहीं हरियाणा के बहादुरगढ़ में किसान रेलवे ट्रैक पर बैठ गए हैं जिससे रेलगाड़ियों का आवागमन प्रभावित हुआ है।

हरियाणा के कुरुक्षेत्र के शाहाबाद क्षेत्र में भी आंदोलित किसानों गुस्सा फूटा। किसानों ने बीच सड़क पर दरी बिछा दी और रास्ता रोक दिया। किसानों ने प्रदर्शन के कारण दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाईवे जाम हो गया। किसान के प्रदर्शन से यहां ट्रकों की लंबी लाइनें लग गईं। उधर दिल्ली, गाजियाबाद और नोएडा पुलिस ने पहले ही किसानों के भारत बंद को देखते हुए ट्रैफिक डायवर्जन रूटजारी किया है। किसान कृषि कानूनों के खिलाफ लंबे समय से प्रदर्शन कर रहे हैं। गाजियाबाद पुलिस का कहना है कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आज बंद को देखते हुए कई जगहों पर ट्रैफिक डायवर्ट रहेगा। दिल्ली और एनसीआर में आज कामकाज के दिन अगर आप किसी जगह जाने की सोच रहे हैं तो ट्रैफिक डायवर्जन के बारे में जरूर जान लें।


गाजियाबाद में 27 सितंबर को किसान यूनियन के बंद के ऐलान को देखते हुए गाजियाबाद पुलिस ने पेरिफेरल, हापुड़ चुंगी, यूपी गेट गाजीपुर बॉर्डर सहित कई मुख्य मार्गों और चौराहों पर रूट डायवर्ट करने का आदेश दिया है। पुलिस ने इसके लिए एडवाजरी जारी है। हापुड़ और गाजियाबाद से पेरिफेरल पर ट्रैफिक नहीं चढ़ सकेगा। हापुड़, गोविन्दपुरम् की तरफ से आने वाले ट्रैफिक (छोटे वाहन) इंडियन ऑइल पेट्रोल पंप और आयकर भवन से बाएं मुड़कर वाया शास्त्रीनगर रामलीला मैदान, पुराना बस अड्डा की ओर जा सकेगा। बम्हेटा की तरफ से आने वाला ट्रैफिक, डायमण्ड तिराहा की ओर से लालकुआ की तरफ मोड़ दिया जायेगा जो वाया नेहरूनगर होते हुए शहर की तफर जा सकेंगे।


राजनगर एक्सटेन्शन चौराहा की तरफ से आने वाला समस्त ट्रैफिक बिजली घर से वाया आयकर भवन कमला नेहरू रोड़ से अपने गन्तव्य को जा सकेंगे। दुहाई पेरिफेरल टोल प्लाजा पर मेरठ की तरफ से आने वाला ट्रैफिक पेरिफेरल पर नहीं चढ़ सकेंगे। समस्त ट्रैफिक वाया एएलटी चौराहा, मेरठ तिराहा होकर अपने गन्तव्य को जा सकेगा। बागपत की ओर से आने वाला समस्त ट्रैफिक दुहाई पेरिफेरल से नीचे उतार दिया जाएगा जो वाया एएलटी चौराहा होकर अपने गन्तव्य को जा सकेगा।
दुहाई से पेरिफेरल पर कोई वाहन डासना की ओर नहीं जा सकेगा। मोदीनगर राजचौपला में मेरठ की ओर से आने वाला समस्त ट्रैफिक परतापुर मेरठ से ही (मेरठ दिल्ली) एक्सप्रेस-वे पर मोड़ दिया जाएगा। मेरठ की तरफ से आने वाला शेष ट्रैफिक कादराबाद मोददीनपुर से हापुड़ की ओर भेजा जाएगा। गाजियाबाद की तरफ से मेरठ की ओर जाने वाला समस्त ट्रैफिक मुरादनगर गंगनहर से निवाड़ी की ओर भेजा जाएगा। लोनी बॉर्डर की तरफ से दिल्ली की ओर जान वाला समस्त ट्रैफिक को वाया लोनी तिराहा, टीला मोड़, भोपुरा होकर दिल्ली की तरफ भेजा जाएगा। दिल्ली की तरफ से आने वाला समस्त ट्रैफिक वाया महाराजपुर,सीमापुरी, तुलसी निकेतन से होते हुए अपने गन्तव्य को जा सकेंगे।



और भी पढ़ें :