जालंधर में दूसरे दिन भी किसानों का प्रदर्शन, ट्रेन और सड़क यातायात प्रभावित

Last Updated: शनिवार, 21 अगस्त 2021 (15:49 IST)
चंडीगढ़। गन्ने की दाम में वृद्धि की मांग कर रहे किसानों ने शनिवार को में रेल पटरियों और एक राष्ट्रीय राजमार्ग को अवरुद्ध कर दिया। इससे ट्रेनों का परिचालन और वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई। फिरोजपुर संभाग के रेलवे अधिकारियों के अनुसार 50 ट्रेनें रद्द कर दी गईं, वहीं 54 ट्रेनों को या तो दूसरे मार्ग पर मोड़ दिया गया या उन्हें गंतव्य स्थान से पहले ही रोक दिया गया।
ALSO READ:

राजनाथ सिंह बोले, किसानों से बातचीत करने के लिए तैयार है सरकार

सैकड़ों किसानों ने शुक्रवार को अनिश्चितकाल के लिए आंदोलन शुरू किया था ताकि पंजाब सरकार पर गन्ना बकाया और गन्ना कीमतों में बढ़ोतरी से संबंधित उनकी मांगों को स्वीकार करने के लिए दबाव डाला जा सके। शनिवार को उन्होंने मांगों की पूर्ति तक अवरोधक हटाने से इंकार कर दिया। उन्होंने बताया कि आपात सेवा वाले वाहनों की आवाजाही को अनुमति दी गई है। जालंधर जिले के धनोवली गांव के निकट प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रीय राजमार्ग के जालंधर-फगवाड़ा मार्ग को अवरुद्ध कर दिया।


इस की वजह से जालंधर, अमृतसर, में यातायात प्रभावित है। प्रशासन ने कुछ वैकल्पिक मार्गों पर वाहनों को मोड़ा है। जालंधर-चहेरू खंड पर बैठे किसानों ने जालंधर में लुधियाना-और लुधियाना-जम्मू रेल पटरियों को अवरुद्ध कर दिया है जिससे अमृतसर-नई दिल्ली (02030) और अमृतसर-नई दिल्ली शान-ए-पंजाब (04068) सहित कई ट्रेनें प्रभावित हुई हैं।(भाषा)(फ़ाइल चित्र)



और भी पढ़ें :